Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

''जग जीत'' गए जगजीत सिंह की याद में हरिभूमि सजा रहा है ''महफिल-ए-मौसिकी-ए-जगजीत''

कार्यक्रम की मुख्य अतिथि हरियाणा सरकार की महिला एवं बाल विकास मंत्री कविता जैन होंगी।

मश्हूर गजल गायक जगजीत सिंह की याद में राष्ट्रीय हिन्दी दैनिक अखबार 'हरिभूमि' और जगजीत सिंह फैन्स ग्रुप मिलकर एक कार्यक्रम आयोजित कर रहे हैं। इस कार्यक्रम का नाम महफिल-ए-मौसिकी-ए-जगजीत है।

यह कार्यक्रम रोहतक के टैगोर ऑडीटोरियम में शनिवार को शाम 5 बजे से शुरू होगा। इस मौके पर पद्मश्री सम्मानित लोकप्रिय गजल गायक हरिहरन जगजीत सिंह की गजलों समेत अन्य गजलें पेश करेंगे। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता हरियाणा सरकार के सहकारिता मंत्री श्री मनीष कुमार ग्रोवर करेंगे।
कार्यक्रम की मुख्य अतिथि हरियाणा सरकार की महिला एवं बाल विकास मंत्री कविता जैन होंगी। इसके साथ जगजीत सिंह के छोटे भाई सरदार करतार अमर सिंह भी कार्यक्रम में मौजूद रहेंगे। बता दें कि जगजीत सिंह का 77वां जन्मदिन 8 फरवरी को है।
कार्यक्रम के एसोसिएट स्पोन्सर जनता टीवी, दिल्ली पब्लिक स्कूल (रोहतक), विद्या श्री इंटरनेशनल स्कूल, मारूती सुजुकी जगमोहन होंगे।
गौरतलब है कि जगजीत सिंह का जन्म 1941 में राजस्थान के श्रीगंगानगर में हुआ था। उनका असली नाम जगमोहन सिंह धीमन था। 1970 और 1980 के दशक में उन्होंने अपनी पत्नी चित्रा सिंह के साथ एक से एक बेहतरीन गजलें गाईं और देश-विदेश में अपनी आवाज का डंका बजाया।
'वो कागज की कश्ती' , 'चिठ्ठी न कोई संदेश', 'जाते- जाते वो मुझे' जैसी मश्हूर गजलें जगजीत सिंह ने गाई हैं। 10 अक्टूबर 2011 को जगजीत सिंह का निधन हो गया, इसके साथ ही देश ने एक बेहतरीन आवाज खो दी।
Next Story
Share it
Top