Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

कांग्रेस को समर्थन देने पर हार्दिक पटेल को बड़ा झटका, दो संस्था ने साथ छोड़ा

हार्दिक पटेल का सरकार ग्रुप और एक धार्मिक संस्था ने साथ छोड़ दिया है।

कांग्रेस को समर्थन देने पर हार्दिक पटेल को बड़ा झटका, दो संस्था ने साथ छोड़ा

गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर सभी पार्टियां अपने अपनी रणनीति से चल रहे हैं। ऐसे में पाटीदार नेता हार्दिक पटेल भले ही चुनाव ना लड़ रहे हों, लेकिन इस चुनाव में उनकी अहमियत को कांग्रेस से ज्यादा को समझ रहा होगा।

ये भी पढ़ें - बीजेपी कार्यालय पर हार्दिक के कार्यकर्ताओं की दिखी गुंडागर्दी, थाने का किया घेराव

खबर है कि कांग्रेस को समर्थन देने के बाद पाटीदार नेता हार्दिक पटेल से सरदार ग्रुप ने दूर बना ली है। ये संगठन पाटीदारों के शीर्ष धार्मिक संस्था के अलावा आरक्षण आंदोलन में अहम भूमिका है।

सरदार पटेल ग्रुप बनाई दूरी

हार्दिक पटेल के आरक्षण के मामले पर कांग्रेस को समर्थन करने पर सरदार पटेल ग्रुप यानी एसपीजी के अध्यक्ष लालजी पटेल ने बाताय कि पाटीचार समाज के लोग हार्दिक के इस समर्थन को स्वीकार नहीं करेंगे। आरक्षण को लेकर हार्दिक भी जनता को लालीपॉप दे रहे हैं। कांग्रेस के जिस फॉर्मूले का हार्दिक ऐलान कर चुके हैं, लाल जी पटेल उसे लॉलीपॉप बता रहे हैं।

ये भी पढ़ें - यूपी के चित्रकूट में बड़ा रेल हादसा, 13 डिब्बे पटरी से उतरे

शीर्ष संस्था ने भी बनाई दूरी

वहीं दूसरी तरफ मेहसाणा स्थित पाटीदार समाज की शीर्ष संस्था उमियाधाम के मुख्य ट्रस्टी विक्रम पटेल ने हार्दिक के समर्थन का विरोध किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की ओर से दिए आरक्षण के फॉर्मूले का उन्होंने समर्थन किया। विक्रम पटेल का कहना है कि उन्हें ऐसी कोई जानकारी नहीं है।

हार्दिक का कांग्रेस को समर्थन

बीते बुधवार को पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कांग्रेस का समर्थन किया था। उन्होंने कहा था कि आरक्षण पर कांग्रेस ने हमारी बातें मान ली है। सत्‍ता में आते ही कांग्रेस आरक्षण पर प्रस्‍ताव पास कराएगी। हमें 50 फीसद से अधिक आरक्षण दिया जा सकता है। उन्‍होंने यह भी कहा कि टिकट को लेकर कोई सौदेबाजी नहीं हुई है। हमने कोई टिकट नहीं मांगा।

Share it
Top