Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

हैप्पी बर्थ डे पीएम मोदी, मां का आशीर्वाद किया दान-दिया स्वावलंबन का मंत्र

नरेंद्र मोदी पहली बार प्रधानमंत्री के रूप में अपना जन्मदिन मना रहे हैं।

हैप्पी बर्थ डे पीएम मोदी, मां का आशीर्वाद किया दान-दिया स्वावलंबन का मंत्र
गांधीनगर. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बुधवार को 64 वां जन्मदिन है जिसे वो बहुत ही साधारण तरीके से मना रहे हैं। मोदी अपने जन्मदिन के मौके पर सबसे पहले अपनी मां हीरा बेन का आर्शीवाद लेने गांधीनगर पहुंचे। पीएम मोदी ने यहां पहुंचकर सबसे पहले अपनी मां के पैर छूकर आशीर्वाद लिया और बदले में मां ने मोदी का मुंह लड्डू खिलाकर मीठा किया। जम्मू कश्मीर में आई बाढ़ आपदा के कारण मोदी अपना जन्मदिन धूमधाम से नहीं मना रहे है। इसी के मद्देनजर मोदी की मां ने उन्हें पांच हजार एक रूपए प्रधानमंत्री बाढ़ पीडित कोष में दान दिए। मां और बेटे की यह मुलाकात करीब 20 मिनट तक चली।
इसके बाद पीएम मोदी ने गुजरात सरकार के 'स्वावलंबन अभियान' का शुभारंभ किया। इस कार्यक्रम में मोदी ने कहा कि 'गरीब नहीं होता तो मध्यवर्ग नहीं बनता। गांवों में गोदाम बनाकर रखा जाए अनाज। किसी से भीख मांगना बुरी बात है।'
मोदी ने देश में पैदावार को लेकर कहा कि 'हमारे देश में अनाज की कोई कमी नहीं है, गोदाम में अनाज सड़ रहा है।' गरीब को स्वाभिमान से जीने का हक है, गरीब के स्वावलंबन से बढ़ेगा देश का स्वाभिमान। मोदी अपने इस कार्यक्रम में श्वेत क्रांति की उपलब्धियां गिनवाना नहीं भुले उन्होंने कहा कि गुजरात देश में दुग्ध उत्पादन में नंवर वन है और इस क्रांति को संभव बनाने में महिलाओं का बड़ा योगदान है।
नरेंद्र मोदी पहली बार प्रधानमंत्री के रूप में अपना जन्मदिन मना रहे हैं बावजूद इसके वो यहां बहुत ही कम सुरक्षा इंतजाम के पहुंचे। मोदी यहां अपनी बीएमडब्ल्यू नहीं बल्कि गुजरात सरकार की स्कोर्पियो कार से पहुंचें। हालाकि मोदी ने यहां से जाने से पहले मीडिया से कोई बात नहीं लेकिन गौरतलब है कि मोदी ने ट्वीटर के जरिए पहले ही बताया दिया था कि वो इस बार अपना जन्मदिन नहीं मनाएंगे। उन्होंने लिखा था 'मुझे पता चला है कि मेरे जन्मदिन पर कई जगहों पर मेरे दोस्त और शुभचिंतक तरह-तरह के प्रोग्राम और कार्यक्रमों का आयोजन कर रहे हैं।
मेरा विनम्र अनुरोध है कि मेरा जन्मदिन न मनाया जाए। इसकी जगह पर लोग अपने समय और संसाधनों का इस्तेमाल जम्मू-कश्मीर में चल रहे राहत कार्यों में मदद देने के लिए करें। '17 तारीख को चीन के राष्ट्रपति जिनपिंग गुजरात में होंगे। हम गर्मजोशी से उनके स्वागत की तैयारी कर रहे हैं, लेकिन वहां कोई जन्मदिन नहीं मनाया जाएगा।'दिन को लेकर गुजरात में हर ओर उत्‍साह का माहौल है। हर कोई अपने राज्‍य के पूर्व मुख्‍यमंत्री और देश के प्रधानमंत्री के आने का इंतजार कर रहे हैं।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, किस किस ने दिए मोदी के जन्मदिन पर बधाई -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-
Next Story
Share it
Top