Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

हज सब्सिडी खत्म, वामदलों ने किया विरोध

वामदलों ने हजयात्रा के लिये तीर्थयात्रियों को मिलने वाली सब्सिडी खत्म करने के केन्द्र सरकार के फैसले की आलोचना करते हुये इसे भेदभावपूर्ण और मनमाना कदम बताया है।

हज सब्सिडी खत्म, वामदलों ने किया विरोध

वामदलों ने हजयात्रा के लिये तीर्थयात्रियों को मिलने वाली सब्सिडी खत्म करने के केन्द्र सरकार के फैसले की आलोचना करते हुये इसे भेदभावपूर्ण और मनमाना कदम बताया है।

माकपा पोलित ब्यूरो की ओर से आज जारी बयान के अनुसार केन्द्र सरकार ने हजयात्रियों की सब्सिडी पर एकाएक रोक लगा दी है, जबकि उच्चतम न्यायालय ने वर्ष 2012 में दिये फैसले में सरकार को दस साल की अवधि में चरणबद्ध तरीके से सब्सिडी खत्म करने का आदेश दिया था।

यह भी पढ़ें- इजरायली पीएम नेतन्याहू ने लगाए 'भारत माता की जय' के नारे, पीएम मोदी को दिया धन्यवाद

सरकार द्वारा अचानक सब्सिडी रोकने का फैसला मनमाना और अन्य निहितार्थों से प्रेरित है। बयान के मुताबिक धर्मनिरपेक्ष राज्य के सिद्धांत के तहत माकपा सरकार द्वारा सहायताप्राप्त धार्मिक तीर्थयात्राओं की पक्षधर नहीं है, यह किसी भी धर्म से जुड़ी क्यों न हो।

इस लिहाज से ऐसी किसी धार्मिक गतिविधि को केन्द्र या राज्य सरकारों की ओर से आर्थिक मदद नहीं दी जानी चाहिये, जबकि यह सिलसिला अभी भी जारी है। भाकपा नेता अतुल कुमार अंजान ने भी केन्द्र सरकार के इस फैसले को गैरजरूरी बताया है।

यह भी पढ़ें- चारा घोटाला केस: लालू प्रसाद यादव सहित तमाम आरोपी CBI कोर्ट पहुंचे

अंजान ने कहा कि सरकार का यह अनावश्यक कदम देश में सांप्रदायिकता की भावना को उभारने वाला साबित होगा। उन्होंने कहा केन्द्र एवं राज्य सरकारें कुंभ से लेकर गुरु पर्व, ईस्टर और बुद्ध एवं महावीर जयंती समारोहों आदि अनुष्ठानों के लिये आर्थिक एवं प्रशासनिक सहयोग करती है, यह करना भी चाहिये।

इसी कड़ी में हज यात्रियों की कठिनाई को भी दूर करना सरकार का दायित्व है।

Loading...
Share it
Top