Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

गुटखा घोटाला मामलाः CBI तमिलनाडु के DGP को पूछताछ के लिए करेगी तलब

केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) गुटखा घोटाला मामले में पूछताछ के लिए तमिलनाडु के डीजीपी टी.के राजेंद्रन और चेन्नई के पूर्व आयुक्त एस.जार्ज को बुला सकती है। अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी।

गुटखा घोटाला मामलाः CBI तमिलनाडु के DGP को पूछताछ के लिए करेगी तलब

केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) गुटखा घोटाला मामले में पूछताछ के लिए तमिलनाडु के डीजीपी टी.के राजेंद्रन और चेन्नई के पूर्व आयुक्त एस.जार्ज को बुला सकती है। अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि एजेंसी ने इस सप्ताह पूछताछ के लिए डीसीपी रैंक के अधिकारियों सहित सात पुलिस अधिकारियों को बुलाया है। उन्होंने बताया कि बुधवार को दो अधिकारियों से पूछताछ की गई थी जबकि दो से बृहस्पतिवार को पूछताछ की गई जबकि तीन अधिकारी शुक्रवार को पूछताछ के लिए पेश होंगे।

अधिकारियों ने बताया कि इन अधिकारियों से पूछताछ पूरी होने पर एजेंसी 1984 बैच के आईपीएस अधिकारी राजेंद्रन और जार्ज को समन भेज सकती है। तमिलनाडु सरकार ने 2013 में गुटखा (तंबाकू और पान पसाले का मिश्रण) पर प्रतिबंध लगा दिया था और यह आरोप लगाया जा रहा है कि गुटखे के उत्पादन और बिक्री की अनुमति देने के लिए नौकरशाहों, मंत्रियों और राजनेताओं को रिश्वत दी गई।

2017 जुलाई में प्रकाश में आया था घोटाला
यह घोटाला आठ जुलाई,2017 को उस समय प्रकाश में आया था जब आयकर अधिकारियों ने तमिलनाडु के पान मसाला और गुटखा निर्माता के गोदाम, कार्यालयों और आवासों पर छापे मारे थे। यह गुटखा निर्माता 250 करोड़ रुपए की कर चोरी के आरोपों का सामना कर रहा है।
एजेंसी के अधिकारियों ने कहा कि जयम इंडस्ट्रीज के प्रवर्तक-निदेशक-एवी माधव राव, उमा शंकर गुप्ता और श्रीनिवास राव-कथित तौर पर अधिकारियों, राजनेताओं और नियामक अधिकारियों को प्रभावित करके एमडीएम ब्रांड गुटखा बेचते थे।
Next Story
Share it
Top