logo
Breaking

रेप से पहले तोड़ देता था लड़कियों की टांग, और फिर करता था ये घिनौना काम

गुरूग्राम में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। कुछ दिन पहले गुरूग्राम में एक 3 साल की बच्ची की रेप के बाद हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। लेकिन आरोपी ने कुछ ऐसे खुलासे किए हैं जिसके बाद पुलिस के भी होश उड़ गए।

रेप से पहले तोड़ देता था लड़कियों की टांग, और फिर करता था ये घिनौना काम
गुरूग्राम में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। कुछ दिन पहले गुरूग्राम में एक 3 साल की बच्ची की रेप के बाद हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। लेकिन आरोपी ने कुछ ऐसे खुलासे किए हैं जिसके बाद पुलिस के भी होश उड़ गए।
आरोपी ने बताया कि उसने अबतक 9 बच्चियों को निशाना बनाया है। लेकिन सबसे ज्यादा हैरान करने वाली बात ये है कि आरोपी रेप से पहले बच्चियों के पैर तोड़ देता था जिससे कि वो भाग न सकें।
बतात्कार के बाद वह जमकर शराब पीता था। पुलिस के मुताबिक आरोपी मंदिर गुरुद्वारों में भंडारे का शौकीन था। पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी करने के लिए कई जगहों पर भंडारे भी करवाए।
बता दें कि बीते 12 नवंबर को गुड़गांव के सेक्टर 66 में एक 3 साल की बच्ची का शव मिला था। बताया जा रहा था कि बच्ची 11 नवंबर की दोपहर से गायब थी।
वारदात का शक पास की ही झुग्गी में रहने वाले सुनील पर गया। जब पुलिस ने सुनील के दीदी, जीजा और मां से पूछताछ की तो पता चला कि सुनील के पिता की 8 साल पहले मौत हो गई थी। जिसके बाद उसने घर छोड़ दिया था। वह सड़कों पर यहां-वहां घूमता रहता था। पुलिस ने काफी कोशिशों के बाद आरोपी को झांसी के एक गांव से गिरफ्तार कर लिया।
पुलिस ने बताया कि आरोपी ने स्वीकार किया है कि उसने अब तक 9 बच्चियों के साथ दुष्कर्म किया है। जिनकी उम्र 3 से 8 साल रही होगी। आरोपी भंडारे का शौकीन था इसलिए वह भंडारे में आने वाली बच्चियों को चॉकलेट और टॉफी देकर बहला फुसला कर किसी सुनसान जगह ले जाता था।
वहां वह बच्चियों के साथ बलात्कार करता था। पुलिस ने बता कि आरोपी ने बीते 2 साल के अंदर 3 बच्चियों को गुड़गांव में, 1 ग्वालियर में, 1 झांसी में और दिल्ली में 5 बच्चियों को अपना शिकार बनाया। पुलिस बाकी घटनाओं की जानकारी तलाश रही है।
पुलिस ने बताया कि आरोपी इतनी आसानी से हाथ नहीं लग रहा था इसके लिए पुलिस ने भंडारे करवाए। आरोपी को फंसाने की खातिर बीते मंगलवार को पुलिस ने गुड़गांव के हनुमान मंदिर, गुरुवार को सांई मंदिर और शनिवार को शनि मंदिर में भंडारे का आयोजन भी कराया, लेकिन आरोपी पकड़ में नहीं आया। उसका पीछा करते हुए पुलिस झांसी पहुंची और रविवार को आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।
Loading...
Share it
Top