Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अमित शाह की रैली में ''हार्दिक हार्दिक'' के नारे

हार्दिक पटेल के समर्थकों ने अमित शाह की बैठक में हार्दिक! हार्दिक! के नारे लगाए और तोड़फोड़ की।

अमित शाह की रैली में
सूरत. पाटीदार समुदाय के नेताओं ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की बैठक में हार्दिक! हार्दिक! के नारे लगाए और तोड़फोड़ की। हार्दिक पटेल के समर्थकों का गुस्सा इस कदर की फूंटा लोगों ने वहां फर्नीचर की तोड़फोड़ और कुर्सियां तक फेंक दी।
गुजरात के सूरत में बीजेपी के नेतृत्व में बनी विजय रूपानी के नए पटेल मंत्रियों को सम्मानित करने के लिए भाजपा द्वारा एक विशाल रैली का आयोजन किया गया था। अमित शाह इसी रैली में ही भाग लेने पहुंचे थे। रैली का आयोजन जहां राज्य में होने वाले चुनावों में पार्टी की ताकत को बढ़ाना था वही पाटीदार समुदाय को प्रभावित भी करना था। बता दें कि हार्दिक और उसके समर्थक जाट आरक्षण की मांग के लिए सुर्ख़ियों में रहे हैं। हार्दिक का कहना है कि पटेल समुदाय को भी नौकरियों और शिक्षा में आरक्षण मिलना चाहिए।
कुछ पाटीदार नेताओं द्वारा आयोजित सम्मान कार्यक्रम उस समय अशांति का माहौल कहा गया जब अमित शाह मंच पर आए और केंद्रीय मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला जनता को संबोधित कर रहे थे। पीछे की कुछ भीड़ ने अचानक "हार्दिक, हार्दिक" चिल्लाना शुरू कर दिया। हार्दिक जिंदाबाद के नारे लगाए गए। इसके साथ ही समर्थकों ने वहां कुर्सियों को फेंका और तोड़-फोड़ शुरू कर दी।
पुलिस ने माहौल को शांत करने की कोशिश की और रैली आयोजन वाली जगह से जल्द ही सभी विरोधियों को हटा दिया। हालांकि रैली में शाह ने केवल 6 मिनट का ही भाषण दिया और माहौल ख़राब होने पर आयोजन को बंद कर दिया गया। शाह का भाषण के समय सिर्फ 20 फीसदी जनता ही बची थी। गौरतलब है कि इस मामले में पुलिस ने करीब 40 पाटीदार नेताओं को हिरासत में लिया है।
राज्य के वरिष्ठ भाजपा नेता के.सी. पटेल ने कहा कि, 'यह शर्मसार करने वाली बात है। कार्यक्रम सुचारू रूप से चल रहा था लेकिन कांग्रेस द्वारा इन लोगों को उकसाया गया है और रैली को बाधित करने की कोशिश की गई है।
बता दें कि पिछले साल 40 दिनों के लिए राज्य को हिलाकर रख देने वाले हार्दिक पटेल ने जाट आरक्षण के लिए हुए आंदोलन में मुख्य भूमिका निभाई थी। 23 वर्षीय पटेल ने भाजपा सरकार को चुनौती दी थी और कहा, "आप इस समुदाय को चोट पहुंचाएंगे तो आपकी सरकार गिर जाएगी।"
एक फेसबुक पोस्ट में हार्दिक पटेल ने अमित शाह को चुनौती देते हुए कहा कि, "मैं अमित शाह को पटेल समुदाय और आरक्षण को रद्द करने से दूर रहने को कहता हूं। जब तक मैं जिंदा हूं तब तक पटेल समुदाय अपने आरक्षण के आंदोलन को बंद नहीं करेगा। अगर आप अभी भी बल द्वारा इस आंदोलन को ख़त्म करना चाहते हैं, तो आपको मुझे मारना होगा। "
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top