Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गुजरात चुनाव: इन दो विधानसभा सीटों पर भाजपा को नहीं मिली कभी जीत की खुशी

गुजरात के राजकोट जिले की दो विधानसभा सीटों पर बीजेपी को कभी जीत हासित नहीं हुई।

गुजरात चुनाव: इन दो विधानसभा सीटों पर भाजपा को नहीं मिली कभी जीत की खुशी
X

बीजेपी के 22 साल के शासन में राजकोट जिले की जसदान और तापी की व्यारा विधानसभा सीट की गुजरात में विशेष पहचान रही है। इन दोनों सीट पर आज तक बीजेपी के विधायकों को कभी भी जीत नहीं मिली है।

गुजरात के गठन के बाद इन दोनों विधानसभा सीटों से हमेशा गैर-बीजेपी उम्मीदवार ही जीता है। पिछले 52 सालों में यहां 12 विधानसभा चुनाव हुए, जिसमें कभी भी जनसंघ या बीजेपी को जीत नहीं मिली।

इसी से सबक लेते हुए इस बार बीजेपी जसदान और व्यारा में जीत के लिए जी जान से जुटी हुई है। जिसके चलते खुद पीएम मोदी ने जसदान व अमित शाह ने व्यारा विधानसभा में पार्टी का प्रचार किया।

यह भी पढ़ें- फिर सामने आया उड़ीसा जैसा मामला, एंबुलेंस ना मिलने पर बेटी के शव को बाइक से ले जाने पर मजबूर पिता

जसदान विधानसभा सीट से BJP का न जीतना इसलिए भी उल्लेखनीय है जसदान में मुस्लिम आबादी राज्य के औसतन 12% की तुलना में महज 2.5% ही है। साथ ही यहां के प्रतिष्ठित राज परिवार के सदस्य सत्यजीत कुमार खच्चर भी बीजेपी के साथ हैं। 27 नवंबर को हुई यहा पीएम मोदी की रैली में भी वे शामिल हुए थे।

अशिक्षा है बीजेपी की हार का कारण

सत्यजीत का कहना है कि जसदान में कांग्रेस के समर्थन की वजह और बीजेपी के न जीत पाने का कारण यहां के लोगों में शिक्षा का आभाव होना है।
सत्यजीत ने बताया कि अब वक्त के साथ यहां शिक्षा के स्तर में सुधार हो रहा है, जिससे एक बड़ा बदलाव होने जा रहा है।

कांग्रेस नहीं तो निर्दलीय जीते मगर BJP नहीं

जसदान की सीट से कांग्रेस 8 बार व निर्दलीय प्रत्याशियों 4 बार जीत मिली है। पाटीदार नेता हार्दिक पटेल के सहयोगी दिनेश बम्भानिया के पिता भीखालाल ने यहां 1990 में कांग्रेस उम्मीदवार कुंवरजी बावलिया के खिलाफ चुनाव लड़ा और जीत भी हासिल की।

यह भी पढ़ें- इस वहशी ने 27 नाबालिगों का किया 'ऑनलाइन रेप', ऐसे बनाता था अपना शिकार

व्यारा में 10 बार मिली कांग्रेस को जीत

प्रदानमंत्री मोदी जब गुजरात के सीएम बने थे तब उन्होंने इस क्षेत्र की मांग को मानते हुए अलग जिले का गठन किया था। लेकिन इसके बाद भी बीजेपी को यहां कभी सफलता नहीं मिली। यहां अब तक के 12 विधानसभा चुनावों में से कांग्रेस 10 बार जीती है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story