logo
Breaking

गुजरात चुनाव 2017 : गुजरातियों के लिए अहम होंगे ये 5 मुद्दे, दांव पर भाजपा की साख

गुजरात में विधाससभा चुनाव के ऐलान के साथ सियासत गर्म हो गई है।

गुजरात चुनाव 2017 : गुजरातियों के लिए अहम होंगे ये 5 मुद्दे, दांव पर भाजपा की साख

गुजरात में विधाससभा चुनाव के ऐलान के साथ सियासत गर्म हो गई है। इस बार के चुनाव 21 साल से प्रदेश की सत्ता में काबिज भाजपा के लिए ही नहीं, कांग्रेस के लिए भी अहम हैं। इस बार के चुनाव में गुजरातियों के लिए पांच मुद्दे बहुत अहम होंगे।

1:- पाटीदार आरक्षण

इस बार के चुनाव में पटेल पाटीदार आरक्षण का मुद्दा मुख्य रूप से छाया रहेगा। हार्दिक पटेल के नेतृत्व में इस मुद्दे को खूब हवा मिली है। पटेल पाटीदार नेता भाजपा से नाराज हैं। ऐसे में देखना होगा कि क्या वे कांग्रेस का साथ देंगे।

2:- प्रदेश का विकास

गुजरात विकास का मॉडल दुनियाभर में चर्चा का विषय रहा है। लेकिन, इस बार विपक्ष ने भाजपा के इस मॉडल को बेनकाब करने की कोशिश शुरू कर दी है। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाल के भाषणों में गुजरात मॉडल का बहुत कम जिक्र हुआ है। हालांकि बुलैट ट्रेन का ऐलान गेम चेंजर साबित हो सकता है।

3:- नोटबंदी

गुजरात विधानसभा चुनाव में नोटबंदी को मुद्दा भी छाया रहेगा। नोटबंदी की मार ने गुजरात के कारोबारियों को भी आहत किया था। हालांकि इसका फायदा भाजपा को यूपी चुनाव में हुआ था। लेकिन, अब नोटबंदी के नकारात्मक परिणाम भी देखने को मिले हैं।

4:- जीएसटी

जीएसटी का मुद्दा इस चुनाव में बड़ा खेल दिखाने वाला है। जीएसटी को लेकर गुजरात के कारोबारियों में जबर्दस्त रोष है। सूरत के ही लाखों कारोबारियों ने इस बार काली दिवाली भी मनाई थी। हालांकि भाजपा सरकार ने हाल ही में डेमेज कंट्रोल भी किया है।

5:- बेरोजगारी

नोटबंदी और उसके बाद जीएसटी ने लागू होने से रोजगार के अवसर कम होने से युवाओं में बड़ा रोष है। आंकड़ों पर गौर करें तो पिछले 5 साल में गुजरात सरकार लोगों के लिए रोजगार के ज्यादा अवसर नहीं दे पाई है।

Loading...
Share it
Top