Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

गुजरात चुनाव: दूसरे चरण से पहले मुसलामानों में इस बात को लेकर मची खलबली, भाजपा परेशान

गुजरात चुनाव के दूसरे चरण से पहले मुस्लिम मतदाताओं में खलबली मची हुई है, जिसकी वजह से भाजपा और कांग्रेस पार्टी दोनों ही परेशान है। गुजरात में दूसरे चरण का मतदान 14 दिसंबर को होगा।

गुजरात चुनाव: दूसरे चरण से पहले मुसलामानों में इस बात को लेकर मची खलबली, भाजपा परेशान

गुजरात चुनाव के दूसरे और आखिरी चरण में अधिकतर मुस्लिम मतदाताओं के लिए इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) चिंता की एक बड़ी वजह है। ईवीएम को लेकर यहां लोगों में जमकर बहस चल रही है। एक मतदाता ने तो ईवीएम को ‘दानव' तक कह दिया। हालांकि उन्होंने कहा कि चिंताओं के बावजूद वह 14 दिसंबर को मतदान करेंगे।

ईवीएम में छेड़छाड़ को लेकर सोशल मीडिया पर चल रहे संदेशों के बीच सीमावर्ती छोटा उदयपुर जिले में अधिकतर लोग आशंका जता रहे हैं कि उनका वोट दूसरे उम्मीदवार को जा सकता है।

इसे भी पढ़ें: गुजरात चुनाव: श्वेता देंगी भाजपा को कड़ी टक्कर, मुकाबला होगा रोचक

57 साल के सैयद माला ने कहा कि हमारे पास केवल वोट का अधिकार है और अगर कोई इसे बदल लेता है तो लोकतंत्र में हमारे पास क्या बचेगा।

उन्होंने कहा कि ईवीएम पर उन्हें भरोसा नहीं है और मतपत्र ही सबसे भरोसेमंद विकल्प है। जिले की तीन विधानसभाओं के अधिकतर मतदाताओं ने इस तरह की चिंता साझा की।

इसे भी पढ़ें: गुजरात चुनाव प्रचार: पीएम मोदी रोड शो के बाद अंबाजी मंदिर में की पूजा अर्चना

गौर करने वाली बात है कि ईवीएम को लेकर पढ़े-लिखे लोग ज्यादा फिक्रमंद नजर आए जो व्हाट्सएप और फेसबुक जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सक्रिय रहते हैं।

कॉलेज में पढ़ने वाले सुल्तान हुसैन ने कहा कि मुझे पता है कि मैं किसे वोट डालूंगा। लेकिन मुझे भरोसा नहीं है कि वोट सही जगह जाएगा। लेकिन अगर बैलट पेपर का इस्तेमाल होता तो मेरा वोट बदल नहीं पाता।

Share it
Top