Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सरकारी स्कूलों में 76 लड़कों और 66 लड़कियों पर 1 शौचालय

नौ राज्यों में 450 से अधिक सरकारी स्कूलों में इस सर्वे को किया गया है।

सरकारी स्कूलों में 76 लड़कों और 66 लड़कियों पर 1 शौचालय
नई दिल्ली. देश के अलग-अलग राज्यों में शौचालय को लेकर किए गए सर्वे में बड़ी ही चौंकाने वाली रिपोर्ट सामने आई है। नौ राज्यों में 450 से अधिक सरकारी स्कूलों के एक सर्वेक्षण में पता चला है कि औसतन 76 लड़कों के द्वारा एक शौचालय को इस्तेमाल किया जाता है। साथ ही 66 लड़कियां भी उसी एक शौचालय को लड़कों के साथ इस्तेमाल करती हैं।
टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, दो साल पहले मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने लड़कों और लड़कियों के लिए अलग शौचालय प्रदान करने के लिए स्वच्छ विद्यालय अभियान का शुभारंभ आयोजित किया था। स्कूलों में पानी की स्वच्छता और सफाई के आकलन के लिए एक अंतर्राष्ट्रीय चैरिटी 'वाटरएड' को यह जिम्मा सौंपा गया। अगस्त 2015 में सरकार ने स्वच्छ विद्यालय अभियान के तहत देश भर में 2.61 लाख स्कूलों में 4.17 लाख शौचालयों के निर्माण की घोषणा की थी। अभियान के आदर्श के अनुसार, वहां 40 छात्रों के लिए कम से कम एक शौचालय होना चाहिए।
यह सर्वेक्षण 4,800 छात्रों और 800 से अधिक शिक्षकों के साक्षात्कार पर आधारित है। सर्वे में पाया गया कि स्कूलों में लगभग 95 फीसदी ही कार्यात्मक शौचालय थे। उनमें से केवल 76 फीसदी शौचालय ही लड़कों और लड़कियों के लिए अलग से थे।
सर्वे में ओडिशा और कर्नाटक राज्य को उन नौ राज्यों के बीच सबसे खराब पाया गया। जबकि 83.5 फीसदी छात्रों ने रिपोर्ट कि है कि उनके स्कूलों में शौचालय काम कर रहे हैं। छात्रों में से सिर्फ तीन-चौथाई उन्हें स्कूल के घंटों के दौरान इस्तेमाल करते हैं और 19.4 फीसदी ने कहा कि वे खुले में शौच करते हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Hari bhoomi
Share it
Top