Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

देश में कुपोषण खत्म करने के लिए WCD ने शुरू किया ये बड़ा अभियान

महिलाओं को 1 हजार कैलोरी और बच्चों को 600 कैलोरी का पोषण देना चाहिए।

देश में कुपोषण खत्म करने के लिए WCD ने शुरू किया ये बड़ा अभियान

देश में पोषण की कमी को दूर करने के लिए केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्रालय (डब्ल्यूसीडी) जल्द ही अतिरिक्त पोषण को लेकर नए दिशानिर्देश लागू करेगा।

यहां राजधानी में मंगलवार को आयोजित एक कार्यक्रम में इसकी घोषणा करते हुए केंद्रीय डब्ल्यूसीडी मंत्री मेनका गांधी ने कहा कि हमें आईसीडीएस कार्यक्रम के तहत महिलाओं को 1 हजार कैलोरी और बच्चों को 600 कैलोरी का पोषण देना चाहिए।

इस कार्यक्रम का पूरा ध्यान पोषण की निगरानी करने पर होगा। इसके लिए नीति में बदलाव की जरूरत है। मंत्रालय आने वाले कुछ दिनों के अंदर अतिरिक्त पोषण को लेकर दिशानिर्देश जारी करेगा।

इसे भी पढ़ें- यौन उत्पीड़न शिकायतों के लिए सरकार ने ‘शी बॉक्स’ पोर्टल शुरू किया

यह वर्तमान में मौजूद सभी दिशानिर्देशों से ऊपर व अलग माने जाएंगे। इसके अलावा गंभीर रूप से कुपोषित बच्चों (एसएएम) को लेकर एक अलग प्रोटोकॉल को तैयार कर जारी किया जाएगा।

कार्यक्रम में मौजूद डब्ल्यूसीडी राज्य मंत्री डॉ़ वीरेंद्र कुमार ने कहा कि भारत ने कई गंभीर बीमारियों को जड़ से उखाड़ फेंकने में सफलता प्राप्त की है। इसमें चिकनपॉक्स, पोलियो मुख्य हैं।

ऐसे में कुपोषण की समस्या को खत्म करना ज्यादा मुश्किल नहीं होगा। इसके लिए राज्यों के स्तर पर जिलाधिकारियों, उप-उपायुक्तों को जिले स्तर की मशीनरी के साथ मिलकर वर्ष 2022 तक इस समस्या को मिशन मोड के आधार पर कार्यक्रम बनाकर खत्म करने की जिम्मेदारी लेनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें- Exclusive Interview:कई मामलों पर खुलकर बोलीं मेनका गांधी

कार्यक्रम में नीति आयोग, पेयजल, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण के अधिकारियों के अलावा कुपोषण की समस्या से सर्वाधिक जूझ रहे 113 प्रभावित जिलों के अधिकारियों ने भी भाग लिया।

इस अवसर पर मेनका गांधी ने छत्तीसगढ़, अरूणाचल-प्रदेश और गुजरात जैसे तीन राज्यों को इस मामले में कमी लाने के लिए बीते दस सालों के दौरान किए गए सतत प्रयासों के लिए पुरस्कार प्रदान किया। साथ ही फॉरेस्ट लेंटर्नंस नामक पुस्तक का विमोचन किया।

Next Story
Top