Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

वाजपेयी को मिल सकता है भारत रत्न, केंद्र ने आरबीआई को पांच पदक बनवाने का दिया आर्डर

मोदी सरकार वाजपेयी और ध्यानचंद तथा कई अन्य को भारत रत्न देने की तैयारी कर रही है।

वाजपेयी को मिल सकता है भारत रत्न, केंद्र ने आरबीआई को पांच पदक बनवाने का दिया आर्डर
नई दिल्ली. यूपीए सरकार ने जब महानतम क्रिकेटर मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को भारत रत्न का सम्मान दिया था तो हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद को भी भारत रत्न देने की मांग ने जोर पकड़ा था, जबकि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को भी इस सर्वोच्च सम्मान देने की चौतरफा मांग उठती रही है। अब ऐसी अटकलें लगना शुरू हो गया है कि मोदी की अगुवाई वाली राजग सरकार वाजपेयी और ध्यानचंद तथा कई अन्य को भारत रत्न देने की तैयारी कर रही है।
सूत्रों के अनुसार केंद्र सरकार ने जिस प्रकार से आरबीआई के छापेखाने में भारत रत्न के पांच पदक बनवाने का आर्डर दिया है उससे लगता है कि केंद्र की मोदी सरकार भारत रत्न के हकदारों को सम्मानित करके इस सर्वोच्च सम्मान देने का रिकार्ड कायम करेगी? हालांकि अभी तक यह तय नहीं है कि इस बार भारत रत्न किन-किन हस्तियों को दिया जाएगा। भारत रत्न के पांच पदकों के आर्डर से अटकलों का बाजार गर्म होने लगा है। इसके बावजूद यह तय माना जा रहा है कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद को यह सर्वोच्च सम्मान दिया जाएगा?
एक से ज्यादा पदकों के आर्डर देने से ऐसी चर्चाओं के साथ सवाल पैदा होने लगे हैं कि मोदी सरकार इस बार किसी एक नामचीन हस्ती को नहीं बल्कि उससे ज्यादा लोगों को इस सर्वोच्च सम्मान से नवाजने जा रही है।
इन पांच नामों पर मंथन जारी-
वाजपेयी व ध्यानचंद के अलावा मदन मोहन मालवीय के नाम की भी चर्चा है। मदन मोहन मालवीय ने ही बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी की स्थापना की थी। इनके अलावा 29 अप्रैल 1848 को केरल के ट्रावनकोर में जन्मे राजा रवि वर्मा जिन्होंने महाभारत और रामायण जैसे कई पौराणिक ग्रंथों के पात्रों की चित्रकारी से नाम कमाया। गीता प्रेस के संस्थापक हनुमान पोद्दार के नाम की भी इस सर्वोच्च सम्मान के लिए नाम की चर्चा है। यह अभी भविष्य के गर्भ में है कि किन-किन हस्तियों को भारत रत्न के सम्मान से नवाजा जाएगा।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, भारत रत्न की दौड़ में सेना के किस अधिकार का नाम आ रहा है सामने -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-
Next Story
Top