Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मुसलमानों के प्रवेश पर बैन के खिलाफ एकजुट हुए फेसबुक, गूगल जैसी दिग्गज कंपनियां

ट्रंप के फैसले के खिलाफ दुनिया की दिग्गज तकनीकी कंपनियां एकजुट हो गई हैं।

मुसलमानों के प्रवेश पर बैन के खिलाफ एकजुट हुए फेसबुक, गूगल जैसी दिग्गज कंपनियां
नई दिल्ली. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के मुसलमानों के प्रवेश पर प्रतिबंध के फैसले का चौतरफा विरोध हो रहा है। ट्रंप के इस फैसले के खिलाफ दुनिया की कई दिग्गज तकनीकी कंपनियां एकजुट हो गई हैं। एप्पल, गूगल, फेसबुक समेत अन्य दूसरे कंपनियों ने ट्रंप के इस आदेश के खिलाफ एक संयुक्त पत्र लिखकर अपना विरोध जताया है।
तकरीबन सभी दिग्गज कंपनियों ने इस आदेश को लेकर विरोध जताया है। एप्पल के सीईओ टिम कुक ने कहा कि बिना अप्रवासियों के एप्पल का अस्तित्व ही नहीं होता, जैसे हम करते हैं वैसे अकेले को कुछ नया करने दो और कामयाब होने दो। यह एक ऐसी नीति नहीं है जिसका हम समर्थन करें।
गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने कहा कि हम इस आदेश के प्रभाव को लेकर चिंतित हैं जिससे गूगल कर्मचारियों और उनके परिवारों पर प्रतिबंध थोपा जाए या फिर अमेरिका में श्रेष्ठ प्रतिभाओं को लाने के रास्ते पर बाधा डाली जाए। पिचाई का कहना है कि इस आदेश से करीब 190 गूगल कर्मचारियों पर प्रभाव पड़ेगा।
फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग ने लिखा कि अधिकांश लोगों की तरह मैं भी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा जारी किए गए हालिया आदेश के पड़ने वाले प्रभाव से चिंतित हूं। हमें शरणार्थियों और जरुरतमंदों के लिए अपने दरवाजे खुले रखने होंगे।
कैच की रिपोर्ट के मुताबिक, कहा जा रहा है कि ट्रंप के पर्यटन संबंधी इस आदेश के खिलाफ इन कंपनियों का यह पहला संयुक्त प्रयास है। बतो दें कि शुक्रवार को डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिका में सात मुस्लिम मुल्कों के यात्रियों और शरणार्थियों के आने पर अस्थायी प्रतिबंध लगा दिया था। इस आदेश के बाद राष्ट्रपति ट्रंप को अमेरिकी की सड़कों पर उतरे हजारों नागरिकों समेत कड़े विरोध का सामना करना पड़ रहा है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top