Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

आजादी के 14 साल बाद आजाद हुआ भारत का ये राज्य, आज है सबसे बड़ा हॉलीडे स्पॉट

गोवा भारत के सबसे खूबसूरत राज्यों में से एक है। यहां एक से एक सुंदर समुद्री किनारे हैं। छुट्टी बिताने के लिए लोगों की यह मनपसंद जगह है। पर क्या आपको पता है जब भारत 1947 में आजाद हुआ, तब गोवा हमारा अंग नहीं था?

आजादी के 14 साल बाद आजाद हुआ भारत का ये राज्य, आज है सबसे बड़ा हॉलीडे स्पॉट

गोवा भारत के सबसे खूबसूरत राज्यों में से एक है। यहां एक से एक सुंदर समुद्री किनारे हैं। छुट्टी बिताने के लिए लोगों की यह मनपसंद जगह है। पर क्या आपको पता है जब भारत 1947 में आजाद हुआ, तब गोवा हमारा अंग नहीं था? तब उस पर दूर के यूरोपियन देश पुर्तगाल का कब्जा था।

आज ही के दिन यानी 19 दिसंबर 1961 को गोवा पुर्तगालियों से आजाद हुआ था। आज ही के दिन से भारतीय सेना ने 'ऑपरेशन विजय अभियान' भी शुरू किया था, साथ ही गोवा, दमन और दीव को पुर्तगालियों के शासन से आजाद करवाया था।
आजादी के बाद भारत ने पुर्तगाल से कहा कि वह गोवा पर अपना दावा छोड़कर उसे भारत को सौंप दे। पर शक्ति के घमंड में पुर्तगाल ने भारत की हर बात अनदेखी की। आखिर भारत ने फैसला किया कि सैन्य शक्ति का उपयोग कर गोवा को आजाद कराया जाए। इस अभियान का नाम रखा गया,‘ऑपरेशन विजय’।
भारत के इरादे की भनक लगने पर पुर्तगाल के रक्षा मंत्री बोतेल्हो मोनिज ने अपने प्रधानमंत्री सालाजार को समझाया कि दूर के एक द्वीप पर कब्जा रखने के लिए शक्तिशाली भारत से टकराना मूर्खता है और यह किसी आत्महत्या से कम नहीं। पर प्रधानमंत्री नहीं माने और गोवा के अपने गवर्नर को संदेश भेजा कि वह चाहते हैं कि पुर्तगाली सैनिक मरते दम तक भारत से लड़े।पर यह संभव नहीं था।
भारत के आक्रमण के सामने पुर्तगाली सेना 36 घंटे भी नहीं ठहर सकी और आज के ही दिन, यानी 19 दिसंबर 1961 को भारत ने अपने गोवा को पुर्तगाल से आजाद करा लिया। गोवा के साथ ही दमन और दीव को भी पुर्तगाली गुलामी से मुक्त करा लिया गया और ये सब भारत में शामिल हो गए।
पुर्तगालियों से मुक्त होने के बाद गोवा का बड़ी ही तेजी से विकास हुआ। आज यहाँ देश-विदेश के कई टूरिस्ट का जमावाड़ा लगा ही रहता है। आज के समय में गोवा भारत के सबसे विकसित राज्यों में से एक है। वैसे आज भी गोवा के कल्चर में पुर्तगाल के कल्चर की झलक देखने को मिलती है।
Share it
Top