Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

350 साल पहले से बिना लड़े दो देश एक दूसरे को सौंप रहे 3000 वर्गमीटर का आईलैंड

1659 के दौरान दोनों देशों की सेनाओं के आमने-सामने संधि हुई थी

350 साल पहले से बिना लड़े दो देश एक दूसरे को सौंप रहे 3000 वर्गमीटर का आईलैंड
X

भारत और पाकिस्तान हों, इस्राइल या फिलिस्तीन हो अथवा उत्तर-दक्षिण कोरिया हों अाए दिन जंग का माहौल बनाए रखते हैं। इसके विपरीत यूरोप में फ्रांस और स्पेन हैं जो अपनी जमीन को पिछले 350 सालों से एक दूसरे के साथ शेयर करते हैं। छह माह एक देश का अधिपत्य रहता है इसके बाद दूसरे का।

असल में स्पेन और फ्रांस के बीच में फैंसेंस नाम का एक आइलैंड है। फिलहाल यह आइलैंड 6 महीने के लिए स्पेन के पास है। इससे पहले इस पर फ्रांस का कब्जा था। छह महीने बाद फिर स्पेन 3000 वर्ग मीटर की इस जमीन को फ्रांस को लौटा देगा।

इसे भी पढ़ें- पाकिस्तान: देश में मासूम से बलात्कार के बाद रिपोर्टिंग में आयी तेजी

यह परंपरा पिछले 350 सालों से चली आ रही है। ये आइलैंड फ्रांस और स्पेन की सीमा को अलग करने वाली बिदासोआ नदी पर मौजूद है।

नदी के बीच का यह फैसेंस द्वीप गुरुवार यानी 1 फरवरी को बिना एक भी गोली चलाए जमीन स्पेन को सौंप दिया। क्रिस बोकमैन ने इस द्वीप की यात्रा की। वो बताते हैं कि द्वीप बांटने की यह परंपरा पिछले 350 सालों से बदस्तूर जारी है।

यहां रहता है सी लाइन का डेरा

हेंडेई का फ्रांसीसी बास्क बीच रिसॉर्ट स्पेन की सीमा पर स्थित आखिरी शहर है। इसकी घुमावदार रेतीली खाड़ी पर ऐसा लगता है कि सैकड़ों सी लाइन्स ने अपना डेरा जमा रखा है।

लेकिन और अधिक ध्यान से देखने पर ये दिलेर सर्फर (समुद्र की लहरों पर तैरने वाले) नजर आते हैं। यहां ठीक एक बड़े से बांध के बाद स्पेन का ऐतिहासिक शहर होन्डारिबिया और विशाल इरुन हैं। यहां नदी बिदासो स्पेन और फ्रांस को अलग करती है।

इसे भी पढ़ें- अमेरिका की चेतावनी: परमाणु हथियार पाने की फिराक में है आतंकी संगठन

पाइनीस की संधि के नाम है मशहूर

यह नदी के बीचोबीच पेड़ों और छंटाई किए घासों से भरा एक दुर्गम शांत द्वीप है। साथ ही 1659 के दौरान यहां हुई उल्लेखनीय ऐतिहासिक घटना के प्रतीक स्वरूप एक पुराना स्मारक भी है।

एक लंबे युद्ध के बाद करीब तीन महीने तक, स्पेन और फ्रांस ने इस द्वीप को लेकर आपस में बातचीत की। क्योंकि इसे तटस्थ क्षेत्र माना जाता था। दोनों ओर से लकड़ी के पुल बनाए गए थे। दोनों सेनाएं खड़ी थीं।

इस वार्ता के दौरान शांति समझौते पर हस्ताक्षर किए गए, जिसे पाइनीस की संधि कहा जाता है। इस क्षेत्र की अदला-बदली की गई और सीमाएं तय की गईं। यह संधि शाही शादी के साथ पूरी की गई जिसमें फ्रांस के राजा किंग लुईस चौदहवें ने स्पेन के राजा किंग फिलिप षष्ठम की बेटी से शादी की।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story