Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

यही हैं वो चार ढोंगी बाबा जिन्होंने 10 सालों तक 4 साध्वियों को बनाया हवस का शिकार, देते थे रूह कांपने वाली यातनाएं

यूपी के बस्ती शहर से सटे संत कुटीर आश्रम में सच्चिदानंद उर्फ दयानंद, परमचेतनानंद, विश्वासानंद और ज्ञान वैराग्यानंद ने छत्तीसगढ़ के जांजगीर जिले की दो साध्वियों को बंधक बनाकर 10 सालों तक रेप किया।

यही हैं वो चार ढोंगी बाबा जिन्होंने 10 सालों तक 4 साध्वियों को बनाया हवस का शिकार, देते थे रूह कांपने वाली यातनाएं

यूपी के बस्ती शहर से सटे संत कुटीर आश्रम में अब चार युवतियों से गैंगरेप का भांडा फूटा है। आश्रम के महंत सच्चिदानंद उर्फ दयानंद और तीन अन्य बाबाओं ने चार युवतियों को बंधक बनाकर रेप किया।

पीड़ित युवतियों की शिकायत पर बस्ती कोतवाली पुलिस ने चार बाबाओं के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म करने समेत कई धाराओं में केस दर्ज किया है। पुलिस का कहना है, पीड़िताओं में दो युवतियां छत्तीसगढ़ के जांजगीर जिले की महुजाडीह गांव की रहने वाली हैं, जबकि दो बस्ती जिले के लालगंज थाना क्षेत्र की हैं।

आश्रम में रखकर उनके साथ 10 सालों से सामूहिक दुष्कर्म किया जाता था। पीड़िताओं ने बताया कि बाबा और उनके साथी न सिर्फ उनके साथ सामूहिक दुष्कर्म करते थे, बल्कि उनके साथ मारपीट भी करते थे।

इसे भी पढ़ें: 2G घोटाले के सभी आरोपी बरी, ए. राजा और कनिमोझी को मिली राहत

आश्रम के स्वामी महंत सच्चिदानंद, परमचेतनानंद, विश्वासानंद, ज्ञान वैराग्यानंद के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। घटना के बाद से ही आरोपी बाबा आश्रम में ताला बंद कर फरार हो गए हैं। अमहट घाट पर लगभग दो दशक से आश्रम संचालित हो रहा था, लेकिन अब युवतियों के बाहर निकलने पर इसका पर्दाफाश हुआ है।

10 साल पहले छत्तीसगढ़ से गईं युवतियां

पुलिस के मुताबिक दो साध्वियों ने बताया कि साल 2007 में बाबा उनके गांव आए थे। उन्हें आश्रम में रखकर पढ़ा लिखाकर ज्ञानी बनाने का आश्वासन देकर दोनों को महंत दयानंद बस्ती आश्रम ले गए। जब दोनों वहां गई थीं, उस वक्त उनकी उम्र 12 और 13 साल की थी।

थोड़े समय बाद ही महंत और उनके साथी दोनों के साथ रेप करने लगे थे, लेकिन उस समय उनकी उम्र बहुत कम थी और समझ में नहीं आता था कि ये लोग उनके साथ क्या कर रहे हैं। उनके विरोध करने पर तीनों बाबा जबरदस्ती करते थे। आश्रम में बंधक बनाकर रखा गया और उनके साथ मारपीट भी की जाती थी और लगातार दोनों के साथ दुष्कर्म किया जाता था।

इसे भी पढ़ें: एसबीआई का दावा: आरबीआई ने बंद की 2000 के नोटों की छपाई

दो महिलाएं करती थीं बाबाओं की मदद

कोतवाली क्षेत्र के डमरुआ मोहल्ले में संचालित सत्संग कुटी आश्रम के महंत सच्चिदानंद उर्फ दयानंद हैं। इनके कई और शहरों में इस तरह के आश्रम हैं। आरोप है कि महंत जहां भी आश्रम है, साथ ले जाते थे और खुद तथा अन्य से उनका यौन शोषण कराते थे।

विरोध करने पर प्रताड़ित किया जाता था और अन्य लोगों के हवाले कर दिया जाता था। आश्रम में बंधक बनाकर उनके साथ कई और को रखा गया है, जिनका यौन शोषण किया जाता रहा। आश्रम में इस कृत्य में महंत का साथ दो महिलाएं भी देती हैं।

इसे भी पढ़ें: तीन तलाक बिल लोकसभा में आज हो सकता है पेश, जानिए पूरा मामला

चार पर केस दर्ज

चार युवतियों ने सच्चिदानंद, परमचेतनानंद, विश्वासानंद, ज्ञान वैराग्यानंद पर बंधक बनाकर रेप करने की शिकायत की। उसके आधार पर चारों आरोपियाें के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। दो पीड़ित युवतियां छत्तीसगढ़ के जांजगीर चांपा जिले की हैं। (संकल्प शर्मा, एसपी, बस्ती)

Loading...
Share it
Top