Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

काला धन / ओपी रावत ने मोदी सरकार पर उठाये ये गंभीर सवाल

पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त ओम (ओपी) प्रकाश रावत ने नोटबंदी के बावजूद चुनावों में काले धन का उपयोग करने को लेकर बयान दिया है।

काला धन / ओपी रावत ने मोदी सरकार पर उठाये ये गंभीर सवाल

पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त ओम (ओपी) प्रकाश रावत ने नोटबंदी के बावजूद चुनावों में काले धन का उपयोग करने को लेकर बयान दिया है।

ओम प्रकाश रावत ने कहा कि नोटबंदी के बाद यह सोचा गया था कि चुनाव के दौरन पैसों का दुरुपयोग नीचे लाया जाएगा। लेकिन यह दौरे के आंकड़ों के आधार पर साबित नहीं हो सका। नोटबंदी के बावजूद चुनावों में काला धन का उपयोग नहीं घटा है।

नोटबंदी के बाद हुए चुनावों में हमने रिकॉर्ड पैसों को जब्त किया हैं। ऐसा लगता है कि राजनीतिक वर्ग और उनके फाइनेंसरों के पास पैसे की कोई कमी नहीं है। इस तरीके से उपयोग किया जाने वाला पैसा आम तौर पर काला धन होता है। जहां तक चुनाव में काले धन का इस्तेमाल किया जाता है, वहां कोई जांच नहीं थी।

बता दें कि ओपी प्रकाश रावत मुख्य चुनाव आयुक्त के पद से शनिवार को सेवानिवृत्त हो गए हैं। ओपी प्रकाश रावत की जगह पूर्व वरिष्ठ आइएएस अधिकारी सुनिल अरोड़ा ने पदभार संभाल लिया है।

इस दौरान ओपी प्रकाश रावत ने मीडिया से बातचीत करते हुए नोटबंदी से लेकर अपनी उपलब्धियों तक पर बात की। पत्रकारों के द्वारा जब ओपी रावत से नोटबंदी और कालाधन जैसे मामले को लेकर कई सवाल किए।

जब ओपी रावत से पूछा गया कि नोटबंदी से चुनावों के दौरान कालेधन के इस्तेमाल पर कोई प्रभाव पड़ा है? इस पर उन्होंने कहा कि नोटबंदी के बाद चुनावों के दौरान काले धन के उपयोग पर कोई फर्क नहीं पड़ा है।

हमने पांच राज्यों के चुनावों के दौरान भी 200 करोड़ रुपए की रिकॉर्ड रकम जब्त किए। इस बात से यह अंजादा लगया जा सकता है कि चुनावों के दौरान जिस स्रोत (सोर्स) से चुनावों में पैसा आ रहा है वे अधिक प्रभावी हैं और नोटबंदी का उस पर कोई फर्क नहीं पड़ा है।

Share it
Top