Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ये हैं 5 दर्दनाक स्कूल बस हादसे, बुझा गए कई घर के चिराग

शनिवार को नोएडा के रजनीगंधा चौक अंडरपास के करीब एक स्कूली बस डिवाइडर से टकरा गई। इस हादसे में 12 बच्चे घायल हो गए वहीं कंडक्टर और ड्राइवर की हालत गंभीर बताई जा रही है। ऐसे में फिर एक बार यह सवाल खड़ा हो गया है कि हमारे बच्चे कितने सुरक्षित हैं।

ये हैं 5 दर्दनाक स्कूल बस हादसे, बुझा गए कई घर के चिराग

शनिवार को नोएडा के रजनीगंधा चौक अंडरपास के करीब एक स्कूली बस डिवाइडर से टकरा गई। इस हादसे में 12 बच्चे घायल हो गए वहीं कंडक्टर और ड्राइवर की हालत गंभीर बताई जा रही है। ऐसे में फिर एक बार यह सवाल खड़ा हो गया है कि हमारे बच्चे कितने सुरक्षित हैं। जो माता-पिता सुबह अपने बच्चों को तैयार करके स्कूल के लिए भेजते हैं उनके बच्चे स्कूल तक जाने के रास्ते में कितने महफूज हैं। हम आपको बता रहें हैं टॉप 5 स्कूली बसों के हादसे जिन्होंने कई घरों के चिरागों को बुझा दिया...

यह भी पढ़ें- बस, 12 से ज्यादा बच्चे घायल, कंडक्टर-ड्राइवर की हालत गंभीर

ये हैं 5 दर्दनाक स्कूल बस हादसे, बुझा गए कई घर के चिराग

  • उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में 26 अप्रैल को बच्चों से भरी एक स्कूली वैन ट्रेन की चपेट में आ गई थी जिसमें 13 बच्चों की मौत हो गई थी। इस हादसे में 7 बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए थे। घटना का मुख्य कारण ड्राइवर की लापरवाही थी। ड्राइवर ने ईयरफोन लगा रखा था। जिससे उसे रेलवे क्रासिंग पर पता नहीं चला कि ट्रेन आ रही है। सीएम योगी आदित्यनाथ इस घटना के बद मौके पर पहुंचे थे।
  • हिमांचल प्रदेश के कांगड़ा जिले के नूरपुर उपमंडल के मकवाल-खुआड़ा मार्ग पर चेलियां गांव में 9 अप्रैल को एक स्कूल बस का हादसा हुआ। बस खाई में गिर गई। इसमें 24 बच्चों समेत 28 लोगों की मौत हुई थी। इस बस में कई ऐसे बच्चे थे जो पहली बार स्कूल गए थे। इन बच्चों के माता-पिता को अब तक न्याय नहीं मिल पाया है।
  • 14 नवंबर को राजस्थान के चुरू में कोहरे के कारण स्कूल वैन और ट्रक में भिड़ंत हो गई थी। जिसमें ड्राइवर की मौत हो गई थी।
  • उत्तर प्रदेश के कौशांबी जिले में 1 नवंबर को बच्चों से भरी एक स्कूल बस हाइटेंशन तार में फंस गई। बस काफीं ऊंची थी जिसके कारण से वह तार के करीब पहुंच गई। लेकिन तार में लगे डंडे की वजह से हादसा टल गया।
  • 23 अगस्त को राजस्थान के दौसा में एक बस अंडरपास में भरे पानी को पार करने लगी लेकिन बस 8 फुट पानी में डूबने लगी। उस वक्त बस में करीब 40 बच्चे सवार थे। सबने छत पर चढ़ कर अपनी जान बचाई। ग्रामीणों की मदद से बच्चों को बचाया जा सका।
Loading...
Share it
Top