Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अमेरिका ने IS के सोशल मीडिया एक्सपर्ट जुनैद को किया ढेर

जुनैद सोशल मीडिया पर आईएस के प्रचार प्रसार के लिए काम करता था।

अमेरिका ने IS के सोशल मीडिया एक्सपर्ट जुनैद को किया ढेर
वाशिंगटन. पिछले कई वर्षों से इस्लामिक स्टेट (आईएस) के खिलाफ खुफिया मिशन में लगे अमेरिका को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। अमेरिका ने आईएस के सबसे काबिल शख्स जुनैद हुसैन को मार डाला। जुनैद सोशल मीडिया पर आईएस के प्रचार प्रसार के लिए काम करता था। 2015 की गर्मियों की छुट्टियों से ही अमेरिका पूर्वी सीरिया में जुनैद पर लगातार नजर बनाए हुए था।
आइसिस का एक हैकर था जुनैद-
अपने मिशन को अंजाम देने के लिए अमेरिका ने हथियारों से लैस ड्रोन्स को जुनैद के पीछे लगाया। जुनैद न सिर्फ इस्लामिक स्टेट की सोशल मीडिया टीम का सबसे काबिल शख्स था, बल्कि एक हैकर भी था। जुनैद और उसकी टीम सोशल मीडिया के सहारे आईएस के नेटवर्क को बढ़ाने, नई भर्तियां करने, दुष्प्रचार कर लोगों को गुमराह करने और आतंकी हमले कराने का काम कर रही थी। यह टीम पश्चिमी देश में रहने वाले अपने ऑनलाइन समर्थकों को निर्देश देकर अलग-अलग जगह आतंकी हमले भी करवा रही थी।
बेटे को साथ रखता था जुनैद-
जुनैद को पता था कि उसकी जान को खतरा है। एहतियात बरतते हुए कई हफ्तों तक जुनैद ने अपने सौतेले बेटे को साथ रखा। बच्चा साथ होने के कारण ड्रोन्स ने जुनैद पर हमला नहीं किया। फिर एक दिन आखिरकार जुनैद की किस्मत ने उसका साथ छोड़ ही दिया। देर रात जुनैद एक इंटरनेट कैफे से अकेला बाहर निकला और कुछ ही मिनटों बाद ड्रोन्स ने उसे मार डाला।
'घर में घुसकर गला काट दो'
अमेरिका के करीब 1300 सैनिकों और कर्मचारियों की जानकारी ऑनलाइन करने के पीछे जुनैद का ही हाथ था। आपको बता दें कि 2015 में इस्लामिक स्टेट ने इन लोगों की जानकारी लीक करके अपने समर्थकों को निर्देश दिए थे कि सभी को उनकी ही जमीन पर मार डाले। इस्लामिक स्टेट ने कहा था कि उनके घर में घुसकर उनका सिर काट दो, जब गलियों से निकलें तो चाकू मार दो।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top