Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

''मुसलमान मुझे हिंदू समझते हैं और हिंदू समझते हैं कि मैं काफिर हूं'': फारूक अब्‍दुल्‍ला

फारूक अब्‍दुल्‍ला का कहना है कि बिना भारत-पाकिस्तान के बातचीत के कश्मीर में अमन संभव नहीं है और न ही कश्मीर में आतंकियों की घुसपैठ रुकेगी।

नेशनल कांफ्रेंस के वरिष्ठ नेता फारूख अब्दुल्ला ने शनिवार को एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा कि जम्मू-कश्मीर भारत का अंग है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि कश्मीर में एक दिन अमन जरूर आएगा।

लेकिन ऐसा कब होगा ये सिर्फ परवरदिगार (अल्लाह) जानता है। उन्होंने कहा कि शांति का एकमात्र रास्ता है कि भारत-पाकिस्तान आपस में बात करे, तभी घुसपैठ रुकेगी।

फारूख का कहना है कि बिना भारत-पाकिस्तान के बातचीत के कश्मीर में अमन संभव नहीं है। न ही कश्मीर में आतंकियों की घुसपैठ रुकेगी। फारूख ने यह भी कहा कि 'मेरे पास वो ताकत नहीं कि मैं पत्थरबाजों को धमका पाऊं।'

यह भी पढ़ें- Kalpana Chawla Birthday: पहली अंतरिक्ष यात्रा से लेकर शादी तक, जानें उनकी जिंदगी से जुड़ी 10 खास बातें

इस इंटरव्यू के दौरान नेशनल कांफ्रेंस के वरिष्ठ नेता फारूख अब्दुल्ला अपने बारे में बोलते हुए भावुक हो गए। उन्होंने भरे गले से कहा कि 'मैं मुसलमान हूं, पर न जानें क्यों मुझे राम से बहुत लगाव है। उन्होंने कहा कि मैं स्‍पष्‍टवादी हूं, मुझे सपने नहीं आते।

उन्होंने कहा कि मुसलमान मुझे हिंदू समझते हैं और हिंदू समझते हैं कि मैं काफिर हूं। लेकिन मेरे जीवन का मंत्र 'जियो और जियो देने' का है। उन्होंने कहा कि देश की शांति में ही देश की तरक्‍की है और हम दिल से चाहते हैं कि देश के हर प्रांत में शांति हो।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top