Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

महाराष्ट्र में ''किसान क्रांति'', हाइवे पर बहाई दूध की नदियां

इस पूरी हड़ताल को किसान क्रांति का नाम दिया गया है।

महाराष्ट्र में किसान क्रांति, हाइवे पर बहाई दूध की नदियां
X

कर्ज माफी से लेकर अनाज के भाव बढ़ने तक के मुद्दे पर महाराष्ट्र में किसान राज्य सरकार के खिलाफ हड़ताल कर रहे हैं। किसान फड़नवीस सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

किसान चाहते हैं कि उनका कर्ज माफ किया जाय, स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें लागू की जाएं, खेती में उपजे अनाज का डेढ़ गुना भाव दिया जाए और किसानों के लिए पेंशन योजना शुरू की जाए।
हड़ताल वापस लेने के लिेए राज्य के कृषि मंत्री सदाभाऊ खोत ने मंगलवार को अहमदनगर के पूणतांबा गांव के किसानों से मुलाकात की थी। मुंबई में किसानों और मुख्यमंत्री के बीच चर्चा हुई लेकिन इसका कोई परिणाम न निकला।
गुरूवार को किसानों ने दूध और सब्जियां न बेचने का फैसला लिया। उल्लेखनीय है कि इस पूरी हड़ताल को किसान क्रांति का नाम दिया गया है। किसानों का दावा है कि कर्जमुक्ति ही उनकी समस्याओं का एकमात्र हल है और मौजूदा सरकार इसके लिए तैयार नहीं है।
हड़ताल कर रहे किसानों ने कोल्हापुर से मुंबई जा रहे दूध के दो टैंकर्स को सतारा शहर के समीप रोक लिया और किसानों ने ट्रक के साथ भी तोड़फोड़ की। दूसरी तरफ अहमदनगर जिले में बेमियादी हड़ताल पर उतरे किसान हाईवे पर जमा हुए। किसानों ने दूध को हाईवे पर भी बहा दिया।
किसानों ने चेतावनी दी है कि उनकी मांगे न पूरी की जाने पर वो अपनी हड़ताल कायम रखेंगे। किसानों की इस हड़ताल के कारण राज्य में रोजमर्रा की जरूरतों को लेकर मुसीबतें पैदा हो सकता है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

और पढ़ें
Next Story