Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Delhi Election 2020 : केजरीवाल ने भाजपा को दी मुख्यमंत्री उम्मीदवार घोषित करने की चुनौती

Delhi Election 2020: अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अमित शाह दिल्लीवासियों से कहते हैं कि तुम मुझे ब्लैंक चेक दो और मैं उस पर साइन कर दूंगा कि दिल्ली का मु्ख्यमंत्री कौन होगा।

Delhi Election 2020 : केजरीवाल ने भाजपा को दी मुख्यमंत्री उम्मीदवार घोषित करने की चुनौती
X
अरविंद केजरीवाल

Delhi Election 2020: दिल्ली चुनाव में वाद-विवाद का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा। आज आप सरकार ने अपना मैनिफेस्टो जारी करते ही मोदी सरकार की दुखती नब्ज पर वार किया। घोषणापत्र जारी करने के बाद संवाददाताओं से बात करने के क्रम में उन्होंने मोदी सरकार को ऐसी चुनौती दे दी जिसके वार से अब तक वो बचती आ रही थी। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मोदी सरकार 5 फरवरी को दोपहर 1 बजे तक मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के नाम की घोषणा करे। मैं भी उस उम्मीदवार से एक आखिरी वाद-विवाद के लिए इंतजार में बैठा हुं।

तुम मुझे ब्लैंक चेक दो, मैं तुम्हे सीएम दूंगा

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि बीजेपी बस नरेन्द्र मोदी और अमित शाह के नाम पर खेल रही है। अमित शाह दिल्लीवासियों से कहते हैं कि तुम मुझे ब्लैंक चेक दो और मैं उस पर साइन कर दूंगा कि दिल्ली का मु्ख्यमंत्री कौन होगा। अमित शाह दिल्ली वासियों के सामने किसी अनपढ़ को लाकर खड़ा कर देंगे और कहेंगे कि लो मैंने साइन कर दिया, यही दिल्ली का मुख्यमंत्री होगा तो क्या दिल्ली की जनता को ये बर्दाश्त होगा? दिल्ली की जनता भी जानना चाहती है कि बीजेपी सरकार अगर जीतती है तो दिल्ली का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा।

बीजेपी को दिया गया वोट किधर जाएगा

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं तो दिल्ली वासियों से कहता हुं कि आप सरकार को दिया गया आपका हर वोट अरविंद केजरीवाल को जाएगा। लेकिन बीजेपी सरकार को दिया गया वोट किधर जाएगा इसका कोई भरोसा नहीं है। इसका तो मतलब यही है कि अगर आपने बीजेपी सरकार को वोट दिया तो आपका वोट गलत जगह भी पहुंच सकता है। इसलिए बीजेपी सरकार से मैं कहना चाहता हुं कि आप यह तय करें और दिल्ली की जनता को बताएं कि बीजेपी की तरफ से दिल्ली के मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार कौन है।

दिल्ली का मुख्यमंत्री चुनने का हक अमित शाह को नहीं है

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं अमित शाह से कहना चाहता हुं कि दिल्ली के मुख्यमंत्री पद के लिए उम्मीदवार चुनने का हक दिल्ली की जनता को है न कि अमित शाह को। ऐसा करके वो दिल्ली की जनता को धोखे में रखना चाहते हैं और धोखे से किया गया कोई भी काम कभी सफल नहीं होता।

पिछले चुनाव में इस वजह से हारी थी बीजेपी

बता दें कि पिछले दिल्ली चुनाव में भी बीजेपी ने अंतिम समय में किरण बेदी के नाम की घोषणा की थी। किरण बेदी का राजनीतिक पृष्ठभूमि में इससे पहले कोई योगदान न रहने के कारण दिल्ली ने बीजेपी को नकार दिया गया था। ठीक उसी तरह बिहार में भी बीजेपी ने बस नरेन्द्र मोदी के नाम पर चुनाव लड़ा था और इसका भी नुकसान उन्हें झेलना पड़ा था। अब दिल्ली में भी बीजेपी अपने उम्मीदवार के नाम की घोषणा न करके कोई राजनीति कर रही है या फिर कोई बड़ी गलती कर रही है, ये तो वक्त ही बताएगा। लेकिन केजरीवाल के इस बयान ने बीजेपी के दुखती नस पर वार कर ही दिया है। अब बीजेपी इसका जवाब कैसे देती है, ये देखना बड़ा रोमांचक होगा।

Next Story