logo
Breaking

ज्योतिष-भविष्यवेत्ताओं के चुनावी आंकलन पर चुनाव आयोग सख्त, मीडिया को दी चेतावनी

चुनाव आयोग ने मीडिया समूहों से ज्योतिषियों या टैरो कार्ड रीडर से कराई गई चुनाव परिणाम की भविष्यवाणियों के प्रकाशन और प्रसारण करने से बचने को कहा है।

ज्योतिष-भविष्यवेत्ताओं के चुनावी आंकलन पर चुनाव आयोग सख्त, मीडिया को दी चेतावनी

चुनाव आयोग ने मीडिया समूहों से ज्योतिषियों या टैरो कार्ड रीडर से कराई गई चुनाव परिणाम की भविष्यवाणियों के प्रकाशन और प्रसारण करने से बचने को कहा है।

यह भी पढ़ें: रघुराम राजन हो सकते हैं 'आप' के राज्‍यसभा प्रत्याशी, कुमार विश्वास का कटेगा पत्ता!

इस बारे में चुनाव आयोग ने एक परामर्श जारी करते हुए कहा कि चुनाव के दौरान मतदान के बाद जारी होने वाले एक्जिट पोल का प्रकाशन और प्रसारण प्रतिबंधित है। इस प्रतिबंध के दायरे में ज्योतिषियों की चुनावी भविष्यवाणियों का प्रकाशन एवं प्रसारण भी शामिल है।

पढ़ें: नोटबंदी का एक साल: भाजपा ने कांग्रेस पर तेज किए हमले, गिनाए नोटबंदी के फायदे

आयोग ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर मीडिया समूहों के लिए यह परामर्श जारी किया है। हिमाचल प्रदेश में आज मतदान होगा जबकि गुजरात में 9 और 14 दिसंबर को दो चरणों में मतदान होगा।

यह भी पढ़ें: प्रदूषण की मार: मनीष सिसोदिया ने किया दिल्ली के सभी स्कूलों को बंद करने का ऐलान

आयोग ने ज्योतिषियों द्वारा की गई चुनाव परिणामों की भविष्यवाणियों के प्रकाशन एवं प्रसारण की आशंकाओं के आधार पर मीडिया समूहों से स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं पारदर्शी चुनाव सम्पन्न कराने के लिये इस तरह की गतिविधियों से बचने को कहा है। इससे पहले आयोग ने इस साल 30 मार्च को भी इस तरह का परामर्श जारी किया था।

यह भी पढ़ें: आम आदमी पार्टी ने निकाली अर्थव्यवस्था की अर्थी, केजरीवाल मौन

इसमें आयोग ने जनप्रतिनिधित्व कानून की धारा 126 ए के हवाले से किसी भी व्यक्ति, मीडिया समूह या किसी अन्य संस्था के माध्यम से चुनाव परिणामों का आंकलन करने वाले एक्जिट पोल सहित किसी भी पूर्वानुमान का प्रसारण और प्रकाशन प्रतिबंधित होने की ताकीद की गयी है।

यह भी पढ़ें: प्रद्युमन हत्याकांड: सीबीआई के नए खुलासे के बाद हरियाणा पुलिस पर बरसीं मेनका गांधी

Loading...
Share it
Top