Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोयला ब्लॉक घोटाला: प्रवर्तन निदेशालय ने कुर्क कीं छत्तीसगढ़ की कंपनी की 603 करोड़ रुपये की संपत्ति

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कोयला ब्लॉक आवंटन घोटाले में अपनी मनी लांड्रिंग जांच के सिलसिले में छत्तीसगढ़ की एक कंपनी की 603 करोड़ रुपये की संपत्तियां कुर्क की हैं।

कोयला ब्लॉक घोटाला: प्रवर्तन निदेशालय ने कुर्क कीं छत्तीसगढ़ की कंपनी की 603 करोड़ रुपये की संपत्ति
X

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कोयला ब्लॉक आवंटन घोटाले में अपनी मनी लांड्रिंग जांच के सिलसिले में छत्तीसगढ़ की एक कंपनी की 603 करोड़ रुपये की संपत्तियां कुर्क की हैं।

ये भी पढ़ें: बंगाल जल रहा और ममता दिल्ली में राजनीति कर रहीं: प्रकाश जावड़ेकर

केंद्रीय जांच एजेंसी ने कहा कि मनी लांड्रिंग रोधक कानून (पीएमएलए) के तहत उसने राज्य के कोरबा जिले के काटघोरा इलाके में मैसर्स वंदना विद्युत लि. का कारखाना भवन, संयंत्र और23 एकड़ जमीन कुर्क की है।

प्रवर्तन निदेशालय ने कंपनी और उसके निदेशकों के खिलाफ सीबीआई की प्राथमिकी के आधार पर पीएमएलए के तहत आपराधिक मामला दर्ज किया था।

ये भी पढ़ें: जम्मू कश्मीर में 10 सरकारी अधिकारियों के खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला दर्ज

ईडी ने बयान में कहा कि कंपनी के निदेशकों विनोद कुमार अग्रवाल, गोपाल प्रसाद अग्रवाल, प्रह्लाद कुमार अग्रवाल तथा कंपनी के अधिकृत हस्ताक्षरकर्ता अंबरीश कुमार गुप्ता ने कोयला ब्लाक आवंटन प्रक्रिया में शामिल होने के पात्र बनने के लिए गुमराह किया और तथ्यों को छिपाया।

कंपनी ने धोखाधड़ी वाले तरीके से छत्तीसगढ़ में फतेहपुर पूर्व कोयला ब्लाक हासिल किया।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story