Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ईस्टर: यहां चढ़ाया था प्रभु यीशु को सूली पर, इस गिरजाघर में ईसाईयों ने की प्रार्थना

श्रद्धालुओं ने यरुशलम के ओल्ड सिटी के इस गिरजाघर में रविवार की प्रार्थना सभा में हिस्सा लिया। वे उस समाधि के करीब पहुंचे जिसके बारे में परंपरा का कहना है कि यह ईसा मसीह की समाधि है।

ईस्टर: यहां चढ़ाया था प्रभु यीशु को सूली पर, इस गिरजाघर में ईसाईयों ने की प्रार्थना

सैकड़ों ईसाई यरुशलम के चर्च ऑफ होली सेपल्कर पहुंचकर ईस्टर मना रहे हैं। माना जाता है कि इसी स्थान पर प्रभु ईसा मसीह को सूली पर चढ़ा दिया गया और दफना दिया गया था लेकिन वह फिर जीवित हो गये थे।

श्रद्धालुओं ने यरुशलम के ओल्ड सिटी के इस गिरजाघर में रविवार की प्रार्थना सभा में हिस्सा लिया। वे उस समाधि के करीब पहुंचे जिसके बारे में परंपरा का कहना है कि यह ईसा मसीह की समाधि है।

आपको बता दें कि पिछले ही साल ऐतिहासिक यूनान बहाली कार्य पूरा किया गया था जिसका लक्ष्य सालों से पानी और नमी के थपेड़ों के प्रभावों को पलटना था। इस गिरजाघर के केंद्र में संगमरमर की संरचना है।

इसे भी पढ़ें- जानें RSS के संस्थापक हेडगेवार की पुण्यतिथि पर उनके जीवन से जुड़ी अहम बातें

वेटिकन सिटी में ऐसे मना ईस्टर

पोप फ्रांसिस ने आज सेंट पीटर्स स्क्वेयर में ईस्टर संडे मास मनाया। भारी सुरक्षा के बीच हुए इस कार्यक्रम में हजारों श्रद्धालुओं ने हिस्सा लिया। पोप फ्रांसिस ने एक ट्वीट कर ईस्टर उत्सव की शुरुआत की, जिसमें उन्होंने कहा, 'ईस्टर की सुबह हमारी आस्था का जन्म हुआ: यीशू जीवित हैं। यह अनुभव ईसाई संदेश के हृदय में है।

दुनिया भर से श्रद्धालू सेंट पीटर्स स्क्वेयर में इकट्ठा हुए ताकि ईस्टर के मौके पर सेंट पीटर्स बैसिलिका की मध्य बालकनी से पोप फ्रांसिस की ओर से दिए जाने वाले परंपरागत संदेश 'उर्बी एट ओर्बी' (शहर और पूरी दुनिया के लिए) को सुन सकें। इस खास उत्सव के लिए पूरे स्क्वेयर को फूलों से सजाया गया था।

इनपुट- भाषा

Next Story
Top