Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

दो दिवसीय यात्रा पर मालदीव पहुंचीं विदेश मंत्री स्वराज, IGMH का किया उद्घाटन

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज रविवार को दो दिवसीय यात्रा पर मालदीव पहुंची। मालदीव में पिछले साल नवंबर में राष्ट्रपति इब्राहीम सोलिह की सरकार बनने के बाद भारत की ओर से यह मालदीव की पहली पूर्ण द्विपक्षीय यात्रा है।

दो दिवसीय यात्रा पर मालदीव पहुंचीं विदेश मंत्री स्वराज, IGMH का किया उद्घाटन

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज रविवार को दो दिवसीय यात्रा पर मालदीव पहुंची। मालदीव में पिछले साल नवंबर में राष्ट्रपति इब्राहीम सोलिह की सरकार बनने के बाद भारत की ओर से यह मालदीव की पहली पूर्ण द्विपक्षीय यात्रा है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि विशेष सम्मान के तहत मालदीव के विदेश मंत्री अब्दुल्ला शाहिद तथा विदेश सचिव अब्दुल मोहम्मद सुषमा स्वराज की अगवानी के लिए एयरपोर्ट पहुंचे।

उन्होंने ट्वीट किया, "विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का मालदीव पहुंचने पर गर्मजोशी से स्वागत किया गया। विशेष सम्मान के तहत मालदीव के विदेश मंत्री अब्दुल्ला शाहिद तथा विदेश सचिव अब्दुल मोहम्मद सुषमा स्वराज की अगवानी के लिए एयरपोर्ट पहुंचे। मालदीव में नवंबर 2018 में नयी सरकार बनने के बाद यह पहली पूर्ण उच्चस्तरीय यात्रा है।

विदेश मंत्री माले में मालदीव के विदेश मंत्री अब्दुल्ला शाहिद के साथ द्विपक्षीय बैठक करेंगी। वह रक्षा मंत्री मारिया अहमद दीदी, वित्त मंत्री इब्राहीम अमीर, राष्ट्रीय योजना एवं अवसंरचना मंत्री मोहम्मद असलम, परिवहन एवं नागरिक उड्डयन मंत्री ऐशाथ नहूला और आर्थिक विकास मंत्री फैय्याज इस्माईल के साथ प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता करेंगी।

सुषमा स्वराज रविवार को राष्ट्रपति इब्राहीम सोलिह तथा संसद के स्पीकर कासिम इब्राहीम से भी मुलाकात करेंगी। वह गृह मंत्री शेख इमरान अब्दुल्ला से भी मिलेंगी।नई दिल्ली में विदेश मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि उनकी यात्रा का उद्देश्य दोनों देशों के बीच "घनिष्ठ एवं मैत्रीपूर्ण" संबंधों को और मजबूत करना है।

उसने कहा, "भारत मालदीव के साथ अपने संबंधों को सबसे अधिक महत्व देता है, जो विश्वास, पारदर्शिता, आपसी समझ और संवेदनशीलता को चिह्नित करते हैं।" विदेश मंत्री के साथ विदेश सचिव विजय गोखले तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी मालदीव की यात्रा पर गए हैं।
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने यहां पहुंचकर इंदिरा गांधी मेमोरियल हॉस्पिटल को मालदीव के लोगों के लिए समर्पित किया है। यह अस्पताल भारत की ओर से वित्तीय सहायता के साथ निर्मित पहली और सबसे बड़ी सरकारी स्वास्थ्य सुविधा है।
Share it
Top