Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

दुर्गा विसर्जन मामला: ममता सरकार ने बदला अपना रुख, कही ये बड़ी बात

हाईकोर्ट ने फैसला सुनाया कि दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन हर दिन होगा।

दुर्गा विसर्जन मामला: ममता सरकार ने बदला अपना रुख, कही ये बड़ी बात

पश्चिम बंगाल में दशहरे पर दुर्गा मूर्ति विसर्जन मामले में कलकत्ता हाईकोर्ट से झटका लगने के बाद ममता सरकार ने अपने सुप्रीम कोर्ट जाने के फैसले को विराम दे दिया है।

हाईकोर्ट के फैसले का रिव्यू करने के बाद पश्चिम बंगाल सरकार ने फैसला किया है कि मुहर्रम के दिन दुर्गा मूर्ति विसर्जन करने से पहले स्थानीय पुलिस को इसकी जानकारी देनी होगी और अनुमति लेनी होगी, ताकि वहां पर पुलिस को तैनात किया जा सके और सुरक्षा की व्यवस्था की जा सके।

गौरतलब है कि मोहर्रम की वजह से दुर्गा प्रतिमा विसर्जन पर बंगाल की ममता सरकार द्वारा लगाई गई रोक को कलकत्ता हाईकोर्ट ने गुरुवार को हटा दिया था। साथ ही राज्य सरकार व पुलिस प्रशासन से लेकर पूजा आयोजकों को निर्देश भी जारी किया है।

हाईकोर्ट के कार्यकारी मुख्य न्यायाधीश राकेश तिवारी व जस्टिस हरिश टंडन की पीठ ने गुरुवार को सुनवाई के बाद फैसला सुनाया कि दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन हर दिन होगा।

कोर्ट के फैसले के बाद ममता ने कहा कि कोई मेरा गला काट सकता है, लेकिन कोई भी मुझे यह नहीं बता सकता कि क्या करना है। मैं शांति बनाए रखने के लिए जो कर सकती हूं, वो करूंगी।

क्या है मामला

ममता सरकार ने दशमी को रात दस बजे तक और एकादशी यानी एक अक्टूबर को प्रतिमा विसर्जन पर रोक लगा दी थी। गुरुवार को हाईकोर्ट की पीठ ने कहा, हर दिन प्रतिमा का विसर्जन होगा। दशहरा के दिन रात 12 बजे तक हर घाट पर प्रतिमा पहुंच जाना चाहिए।

अधिसूचना खारिज नहीं

राज्य सरकार ने प्रतिमा विसर्जन को लेकर जो अधिसूचना जारी की थी उसे हालांकि हाईकोर्ट ने खारिज नहीं किया है। सरकार से इस संबंध में हलफमाना जमा देने के लिए तीन सप्ताह का समय दिया है। साथ ही सुप्रीम कोर्ट में हाईकोर्ट के निर्देश को चुनौती देने के लिए शुक्रवार तक का ही मोहलत राज्य सरकार को दिया गया है।

Next Story
Share it
Top