Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

नरम पड़ा अमेरिका, तानाशाह से बिना शर्त बातचीत को तैयार ट्रंप

उत्तर कोरिया ने दो सप्ताह पहले ही अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टक मिसाइल का परीक्षण किया है।

नरम पड़ा अमेरिका, तानाशाह से बिना शर्त बातचीत को तैयार ट्रंप

उत्तर कोरिया को दुनिया का सबसे मजबूत परमाणु शक्ति वाला देश बनाने की किम जोंग-उन की घोषणा के बीच अमेरिका के विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने कहा है कि अमेरिका परमाणु नि:शस्त्रीकरण मुद्दे पर बिना पूर्व शर्त के उत्तर कोरिया के साथ वार्ता शुरू करने को तैयार है।

अमेरिका ने उत्तर कोरिया को यह पेशकश ऐसे समय की है जब उसकी अर्थव्यवस्था की रीढ़ तोड़ने वाले कई प्रतिबंध उत्तर कोरिया पर लगे हुए हैं और दो सप्ताह पहले ही इस देश ने अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टक मिसाइल का परीक्षण किया है।

इसे भी पढ़ें- नॉर्थ कोरिया से परमाणु हमले का खतरा, बजा ''शीत युद्ध'' की शुरुआत वाला सायरन

इस पेशकश से ऐसा प्रतीत हो रहा है कि टिलरसन के पहले वाले रुख में अंतर आया है क्योंकि टिलरसन ने एक बार कहा था कि अमेरिका उत्तर कोरिया के साथ कोई मोल-तोल नहीं करेगा और वार्ता तभी संभव है जब किम-जोंग उन सरकार परमाणु नि:शस्त्रीकरण के लिए तैयार हो।

टिलरसन ने कहा, हमने इसे कूटनीतिक तौर पर कहा है कि अगर उत्तर कोरिया बातचीत को तैयार होता है तो हम कभी भी बातचीत को तैयार हैं। हम पहली वार्ता बिना किसी पूर्व शर्त के करने को तैयार हैं।

टिलरसन अटलांटिक काउंसिल कोरिया फाउंडेशन फोरम की ओर से आयोजित 'मीटिंग द फॉरेन पॉलिसी चैलेंजेज ऑफ 2017 एंड बियॉन्ड' कार्यक्रम में बोल रहे थे। यह पेशकश राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की चेतावनी से ठीक उलट है।

इसे भी पढ़ें- अमेरिका की धमकी, जंग हुई तो नार्थ कोरिया को पूरी तरफ बर्बाद कर देंगे

राष्ट्रपति ने कहा था कि बातचीत विफल हो चुकी है और टिलरसन अपना समय बर्बाद कर रहे हैं। टिलरसन ने कहा है कि उत्तर कोरिया से यह मांग करना कि वह बातचीत शुरू करने से पहले अपने हथियार छोड़ दे, यह मांग व्यवहार्य नहीं है।

अमेरिका के विदेश मंत्री का यह बयान ऐसे समय में आया है जब उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन अपने देश को दुनिया की सबसे मजबूत परमाणु शक्ति बनाने की कसमें खा रहे हैं। हालांकि व्हाइट हाउस ने तत्काल यह कहा है कि उत्तर कोरिया को लेकर राष्ट्रपति के विचार में कोई बदलाव नहीं आया है।

Next Story
Top