Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नॉर्थ कोरिया ने अमेरिका को दी परमाणु बम फेंकने की धमकी

नॉर्थ कोरिया के विदेश मंत्री ने बुधवार को कहा है कि हमारे देश के खिलाफ अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ''युद्ध की बत्ती सुलगा दी है और उसके लिए उन्हें दंड भुगतना होगा।

नॉर्थ कोरिया ने अमेरिका को दी परमाणु बम फेंकने की धमकी
X

नॉर्थ कोरिया ने कहा है कि डोनाल्ड ट्रम्प ने जंग की शुरुआत कर दी है और अब अमेरिका को आग के शोलों से गुजरना होगा। नॉर्थ कोरिया के विदेश मंत्री रि यॉन्ग हो ने एक रूसी न्यूज एजेंसी से बातचीत में यह कमेंट किया है।

बता दें कि नॉर्थ कोरिया के न्यूक्लियर हथियार और मिसाइल प्रोग्राम्स को लेकर उसके और यूएस के बीच हाल के हफ्तों में तनाव काफी बढ़ गया है।

इसे भी पढें: जल्दी सुलझेगा गाजा पट्टी विवाद हमास ने फिलिस्तिन के साथ तेज किया बैठकों का दौर

हमारा न्यूक्लियर प्रोग्राम चर्चा का विषय नहीं

रूस की सरकारी न्यूज एजेंसी तास से बातचीत करते हुए नॉर्थ कोरिया के विदेश मंत्री रि यॉन्ग हो ने कहा, हमारा न्यूक्लियर प्रोग्राम इस क्षेत्र में शांति और सुरक्षा की गारंटी है और यह चर्चा का विषय नहीं होगा।

बता दें कि नॉर्थ कोरिया ने कई मिसाइलों का टेस्ट किया है। 3 सितंबर को उसने छठा न्यूक्लियर टेस्ट भी किया था, जो कि हाइड्रोजन बम था। साउथ कोरिया, अमेरिका और जापान उसकी इस हरकत से बेहद नाराज हैं।

नॉर्थ कोरिया ने इस साल फरवरी से अब तक 15 टेस्ट किए हैं, इस दौरान कुल 22 मिसाइलें दागी हैं, इनमें से 2 जापान के ऊपर से गुजारी हैं। नॉर्थ कोरिया ने खुलेआम कहा है कि वह अपनी मिसाइल क्षमता को अमेरिका पर हमले के लिए बढ़ा रहा है।

ट्रंप ने हमारे खिलाफ की जंग की शुरुआत

रि यॉन्ग हो ने कहा, यूनाइटेड नेशंस में अपने झगड़ालू और पागलपन भरे बयानों से ट्रम्प ने हमारे खिलाफ जंग की शुरुआत कर दी है, लेकिन आखिरी वार हम करेंगे, शब्दों से नहीं, यूएस को आग के शोले बरसाकर ऐसा करेंगे। इससे पहले रि यॉन्ग ने ट्रम्प को दुष्ट प्रेसिडेंट भी कहा था। रि यॉन्ग के कमेंट्स से ट्रम्प और नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग-उन के बीच जुबानी जंग और तेज हो सकती है।

अब जंग से ही हल निकलेगा

नॉर्थ कोरिया के विदेश मंत्री ने कहा, हम आखिरी वार करने के करीब पहुंच गए हैं, जिससे हम अमेरिका के साथ पावर का बैलेंस हासिल कर लेंगे। हम अपने न्यूक्लियर हथियार को लेकर कोई भी बातचीत करने को राजी नहीं होंगे। अब बातचीत से नहीं, जंग से ही हल निकलेगा।

सख्ती से सोचना होगा : ट्रंप

उधर, ट्रम्प ने कहा है, नॉर्थ कोरिया के हाल के मिसाइल और न्यूक्लियर टेस्ट पर मेरी अलग सोच है, अब यह समस्या उस मोड़ तक पहुंच गई है, जहां कुछ तो करना ही पड़ेगा। मुझे लगता है कि इस मसले पर हमें दूसरों के मुकाबले सख्ती से सोचना होगा। ट्रम्प ने यह बयान बुधवार को मीडिया से बातचीत में दिया।

इसे भी पढें: अमेरिका ने यूनेस्को को दिया बड़ा झटका, इजरायल का विरोधी रूख पर छोड़ी सदस्यता

अमेरिका ने उ.कोरिया के ऊपर से उड़ाए बॉम्बर्स

अमेरिका के 2 बॉम्बर्स ने तीसरी बार 10 अक्टूबर को कोरियाई पेनिनसुला पर उड़ान भरी। अमेरिका ने गुआम एयरबेस से 2 बी-1बी फाइटर प्लेन्स उड़ाए। इस दौरान साउथ कोरिया के भी दो एफ -15 फाइटर भी साथ थे।

इससे पहले, सितंबर में भी 2 बार अमेरिकी फाइटर प्लेन्स ने नॉर्थ कोरिया पर से उड़ान भरी थी। उधर, अमेरिकी आर्मी ने एक बयान जारी कर कहा कि यूएस ने जापान और साउथ कोरिया के फाइटर प्लेन्स के साथ एक्सरसाइज की।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story