Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अमेरिका में मारे गए भारतीय मूल के पुलिस अधिकारी को ट्रंप ने बताया ''नेशनल हीरो''

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारतीय मूल के पुलिस अधिकारी रोनिल रॉन सिंह को ''राष्ट्रीय हीरो'' बताया, जिनकी हाल ही में कैलिफोर्निया में हत्या कर दी गई थी।

अमेरिका में मारे गए भारतीय मूल के पुलिस अधिकारी को ट्रंप ने बताया

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारतीय मूल के पुलिस अधिकारी रोनिल रॉन सिंह को 'राष्ट्रीय हीरो' बताया, जिनकी हाल ही में कैलिफोर्निया में हत्या कर दी गई थी। डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि अमेरिका का दिल उस दिन टूट गया था जब अवैध विदेशी ने उस युवा अधिकारी की नृशंस हत्या की थी।

डोनाल्ड ट्रंप ने भारतीय मूल के पुलिस अधिकारी के सर्वोच्च बलिदान को याद करते हुए अवैध आव्रजन और मादक पदार्थों की तस्करी को रोकने के लिए मेक्सिको सीमा पर दीवार बनाने का मुद्दा उठाया और इसके वित्तपोषण के लिए डेमोक्रेट्स पर एकबार फिर से दबाव बनाया।

26 दिसंबर को एक ट्रैफिक स्टॉप के दौरान न्यूमैन पुलिस विभाग के 33 वर्षीय कॉर्पोरल रॉन सिंह की एक अवैध शरणार्थी ने कथित तौर पर गोली मारकर हत्या कर दी थी। ट्रम्प ने बृहस्पतिवार को सिंह के परिवार के सदस्यों और सहकर्मियों के साथ बात की थी।

जलेबी और बर्फी को पछाड़ कर 'गुलाब जामुन' बना पाकिस्तान की राष्ट्रीय मिठाई

रॉन सिंह जुलाई 2011 में पुलिस बल में शामिल हुए थे। डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि क्रिसमस के एक दिन बाद अमेरिका का दिल उस वक्त टूट गया, जब कैलिफोर्निया में एक युवा पुलिस अधिकारी की एक अवैध विदेशी ने बर्बरता से हत्या कर दी थी, जो सीमा पार कर यहां आया था।

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि एक अमेरिकी हीरो रॉन सिंह की जान एक ऐसे व्यक्ति ने ले ली जिसे हमारे देश में होने का कोई अधिकार ही नहीं था। कैलिफोर्निया की पुलिस ने मेक्सिको के गुस्तावो पेरेज अरियागा नामक 33 वर्षीय अवैध शरणार्थी को सिंह की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है।

ओवल कार्यालय से राष्ट्र के नाम अपने पहले संबोधन में, ट्रम्प ने मेक्सिको सीमा के साथ दीवार बनाने का मुद्दा उठाया। ट्रम्प ने बुधवार को ओवल कार्यालय से दिए एक संबोधन में देश से अमेरिका-मेक्सिको सीमा पर दीवार निर्माण के लंबित पड़े वादे को पूरा करने के लिए कोष की मांग ताकि अनियंत्रित और अवैध आव्रजकों के कारण बढ़ रहे मानवीय और सुरक्षा संकट को रोका जा सके।

अफगानिस्तान के पुस्तकालय पर रूस के विदेश उपमंत्री का बड़ा बयान

अमेरिका के आंशिक रूप से ठप पड़े सरकारी कामकाज के बीच ट्रम्प ने यह बयान दिया है। राष्ट्रपति सरकार के कामकाज शुरू करने के बदले डेमोक्रेट्स पर दीवार के लिए 5.7 अरब डॉलर देने का दबाव बना रहे हैं।

ओवल कार्यालय से अपने पहले संबोधन में डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि यह मानवीय संकट है। दिल और आत्मा का संकट है। उन्होंने कहा कि लाखों वैध प्रवासियों का अमेरिकी नागरिक स्वागत करते हैं जो अमेरिकी समाज को समृद्ध करते हैं और देश में योगदान करते हैं। ट्रम्प ने कहा कि सभी अमेरिकी अनियंत्रित, अवैध आव्रजकों से परेशान हैं।

Share it
Top