Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

नोटबंदी पर बोले जेटली- फैसला वापसी का सवाल ही नहीं उठता

जेटली ने कहा कि इसकी संयुक्त संसदीय समिति के जांच की कोई जरूरत नहीं है।

नोटबंदी पर बोले जेटली- फैसला वापसी का सवाल ही नहीं उठता
नई दिल्ली. नोटबंदी को लेकर विभिन्न राजनीतिक दलों की ओर विरोध किए जाने और इस फैसले को वापस लेने की मांग को लेकर वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कहा कि नोटबंदी का फैसला वापस नहीं होगा। उन्होंने कहा कि सभी राजनीतिक दल इस मुहिम का समर्थन करना चाहिए। नोटबंदी से आम आदमी की जिंदगी बेहतर होगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस इस मुहिम में बाधा डाल रही है। सबको इसका समर्थन करना चाहिए। राज्यसभा में प्रधामंत्री के बयान की मांग पर कहा कि अगर सरकार को लगेगा के प्रधानमंत्री को इस मुद्दे पर जवाब देना चाहिए तो प्रधानमंत्री भी जवाब देंगे।
उन्होंने आगे कहा कि एटीएम की समस्याएं जल्द ही ठीक हो जाएंगी। बड़े डिफॉल्टरों के लोन माफ नहीं किए, रिकवरी की कोशिश हो रही है। बैंकों पर लगी भीड़ पर उन्होंने कहा, 'मैंने खुद बैंक में जाकर देखा है, लाइनें छोटी हुई हैं। बैंककर्मी सुबह से रात तक काम कर रहे हैं। बैंकों ने सात दिनों में अच्छा काम किया है। रिजर्व बैंक ने करेंसी पर छह महीने पहले काम करना शुरू कर दिया था। आरबीआई के पास पर्याप्त करेंसी है।'
अरुण जेटली ने कहा कि कालेधन के खिलाफ उठाए गए इस कदम को आतंकवाद से तुलना करना देश का अपमान है। उन्होंने कहा कि साढ़े चार हजार रुपए बदलने की योजना का लोगों ने दुर्पयोग किया। इसीलिए अब पुराने नोट बदलवाने की सीमा दो हजार रुपए की गई है। वहीं बैंकों से कैश निकालने की सीमा 4500 से घटाकर 2000 किए जाने पर भी जेटली ने सफाई दी। उन्होंने कहा कि ऐसा इसलिए किया गया कि बड़ी संख्या में लोग इसका दुरुपयोग कर रहे थे। चुनिंदा लोगों के लिए नोटबंदी की जानकारी लीक किए जाने के आरोप को भी जेटली ने सिरे से खारिज कर दिया।

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Share it
Top