Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

नोटबंदी: मोटी रकम जमा कराने वालों को IT विभाग ने भेजा नोटिस

बैंकों ने खातों में असाधारण या संदिग्ध मात्रा में नकदी जमा कराने की जानकारी विभाग को दी है।

नोटबंदी: मोटी रकम जमा कराने वालों को IT विभाग ने भेजा नोटिस
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा आठ नवंबर से 500 और 1000 के नोट बंद होने के बाद से ही देश के सभी बैंकों में मोटी मोटी रकम जाम हो रही हैइ। इसी के चलते अब आयकर विभाग ने भी मोटी रकम जमा करने वालों के खिलाफ जांच शुरु कर दी है और साथ ही उन्हें नोटिस भी भेज दिया है।
जनसत्ता के मुताबिक, अधिकारियों ने बताया कि यह नोटिस उन लोगों को जारी किए गए हैं जिनके बारे में बैंकों ने खातों में ‘असाधारण या संदिग्ध मात्रा में नकदी जमा कराने’ की जानकारी विभाग को दी है। यह आम तौर पर ढाई लाख रुपए से अधिक की नकदी जमा करने पर जारी किए जा रहे हैं। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आठ नवंबर की मध्यरात्रि से देश में 500 और 1,000 रुपए के पुराने नोटों को चलन से बाहर कर दिया था। इसके बाद बड़ी मात्रा में लोग बैंकों में अपनी नकदी जमा करा रहे हैं जिन पर आयकर विभाग लगातार नजर रखे हुए है।
तो वही दूसरी तरफ सरकार के 500, 1,000 रुपए के नोट बंद करने के फैसले के दस दिन बाद शनिवार (19 नवंबर) को कई बैंक शाखाओं के बाहर लाइनें कुछ छोटी नजर आई लेकिन एटीएम पर नकदी समाप्त होने और लंबी प्रतीक्षा का दौर अभी भी जारी है। बैंकों की सभी शाखाओं में आज (शनिवार, 19 नवंबर) को केवल उनके अपने ग्राहकों के साथ ही लेनदेन किया जा रहा है। उनमें दूसरे बैंकों के ग्राहकों के 500 और 1,000 रुपए के नोट बदलने का काम नहीं हो रहा है।
हालांकि, बुजुर्गों के लिए ऐसी कोई रोकटोक नहीं है और वह किसी भी बैंक में अपने नोट बदल सकेंगे। पुराने नोट के बदले नए नोट लेने की सीमा को घटाकर 2,000 रुपए किया गया है ताकि नकदी की मांग पर बढ़े दबाव को कुछ कम किया जा सके। लोगों की परेशानी को कम करने के लिये सरकार ने शादी वाले परिवार को ढाई लाख रुपए तक नकद निकासी करने और किसानों और छोटे व्यापारियों को 50,000 रुपए तक नकद उपलब्ध कराने की सुविधा दी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 8 नवंबर को 500 और 1,000 रुपए के नोट बंद करने की घोषणा कर आश्चर्यचकित कर दिया था। उसके बाद से ही पूरे देश में बैंकों और डाकघर के बाहर लंबी लाइनें लगी हुई हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top