Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नोटबंदीः हर 2 घंटे में स्थिति का जायजा ले रहा है गृह मंत्रालय

गृह मंत्रालय ने राज्यों से चौकसी बरतने के लिए कहा है।

नोटबंदीः हर 2 घंटे में स्थिति का जायजा ले रहा है गृह मंत्रालय
X
नई दिल्ली. 500 और 1,000 रुपये के नोटों को अमान्य घोषित करने के बाद देशभर में कैश की समस्या पर गृह मंत्रालय हर दो घंटे में स्थिति की समीक्षा कर रहा है। मंत्रालय ने राज्यों को भी समस्या से निपटने के लिए आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए हैं। एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, गृह मंत्रालय का कंट्रोल रूम सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से लगातार जुड़ा हुआ है और हर दो घंटे में वहां की स्थिति की जानकारी लेकर उचित निर्देश दे रहा है। वहीं, एक इंटेलिजेंस रिपोर्ट में कहा गया है कि बैंकों और एटीएम में नकदी की कमी कम से कम एक हफ्ते और रहेगी।
इसलिए आई कमी
खुफिया एजेंसियों की ओर से तैयार की गई रिपोर्ट के आधार पर गृह मंत्रालय के अधिकारी ने कहा है कि सर्कुलेशन में अभी भी पर्याप्त मात्रा में नए नोट नहीं हैं। लोग छोटी करेंसी जमा करके रख रहे हैं और 100 के नोट नहीं खर्च कर रहे। ये वो रकम है, जिसे 500 और 1000 हजार के पुराने नोट बदलकर हासिल की गई थी। अधिकारियों के मुताबिक, करंसी की डिमांड एंड सप्लाई में कमी की वजह से कैश की समस्या कम से कम एक हफ्ते और बनी रहेगी। सबसे ज्यादा समस्या दिल्ली और कुछ अन्य शहरों में है। यहां पर्याप्त मात्रा में एटीएम काम नहीं कर रहे और मशीनों को दोबारा से भरे जाने की रफ्तार भी बेहद धीमी है। अधिकारी ने कहा कि जब तक एटीएम ठीक ढंग से नहीं चलने लगते, तब तक बैंकों में लंबी लाइनें लगी रहेंगी।
राज्यों के लगातार संपर्क में मंत्रालय
गृह मंत्रालय के अधिकारी ने बताया कि अबतक कहीं से भी किसी बड़ी हिंसा की सूचना नहीं है, लेकिन मंत्रालय ने राज्यों से चौकसी बरतने के लिए कहा है। गृह मंत्रालय के तीन सीनियर अधिकारी लगातार राज्यों के डीजीपी से संपर्क बनाए हुए हैं और उनसे स्थिति के बारे में जानकारी ले रहे हैं। केंद्र ने पहले ही सभी राज्यों से बैंकों, एटीएम और कैश ले जाने वाले वाहनों की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाने का निर्देश दिया था। एक अधिकारी ने बताया, 'हमने राज्यों से कहा है कि अगर उन्हें किसी प्रकार की मदद की जरूरत है तो हम उन्हें तुरंत देंगे।' केंद्र सरकार को उम्मीद है कि अगले कुछ दिनों में ही स्थिति सामान्य हो जाएगी। अधिकारी ने बताया कि इस बारे में राज्यों को अडवाइजरी भेज दी गई थी।
नोटों की छपाई जारी
एनबीटी की रिपोर्रिट के मुताबिक, जर्व बैंक ऑफ इंडिया पहले ही कह चुका है कि नोटों की छपाई पूरी क्षमता से की जा रही है, ताकि रुपये की मांग पूरी की जा सके। देश में 4,000 जगहों पर करंसी को जमा करके रखा गया है और वहां से बैंकों की शाखाओं को नोट भेजे जा रहे हैं। 500 और 1,000 के नोटों को अमान्य घोषित करने के बाद पूरे देश में बैंकों और एटीएम के बाहर भारी भीड़ देखी जा रही है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story