Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

खतरे में देश की राजधानी! 26 जनवरी को हो सकता है आतंकी हमला, पुलिस को तलाश है इन आतंकियों की

दिल्ली पुलिस ने गणतंत्र दिवस के दौरान आतंकी हमले की आशंका के मद्देनजर संदिग्ध आतंकियों के पोस्टर शहर में लगाए हैं।

खतरे में देश की राजधानी! 26 जनवरी को हो सकता है आतंकी हमला, पुलिस को तलाश है इन आतंकियों की

दिल्ली पुलिस ने गणतंत्र दिवस(26 जनवरी) के दौरान आतंकी हमले की आशंका के मद्देनजर संदिग्ध आतंकियों के पोस्टर शहर में लगाए हैं। पुलिस इन आतंकियों की तलाश कई दिनों से कर रही है। ये सभी आतंकी इंडियन मुजाहिदीन के कर्नाटक और मुबंई मॉड्यूल का हिस्सा है।

दिल्ली पुलिस ने इन आतंकवादियों का सुराग देने वालों के नाम गोपनीय रखने के साथ ही ईनाम देने की भी घोषणा की है।

यह भी पढ़ें- Shocking! एक ही कार ने महिला को दो बार कुचला, देखें फिर क्या हुआ

26 जनवरी के मद्देनजर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था

दिल्ली पुलिस ने 26 जनवरी के चलते दिल्ली में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है। पूरे शहर पर नजर रखी जा रही है, साथ ही पुलिस ने इन आतंकियों के पोस्टर भी जारी किए है।

26 जनवरी के मद्देनजर पुलिस लोगों को जागरूक भी कर रही है और यह अपील कर रही है कि कुछ भी संदिग्ध गतिविधि होने पर पुलिस से संपर्क करें। डीजीपी अजीत सिंगला के मुताबिक, पुलिस शहर में नाकाबंदी कर कड़ाई से वाहनों की चेकिंग कर रही है। साथ ही किरायेदारों का भी वेरिफिकेशन किया जा रहा है। वहीं साइबर कैफे से लेकर पार्किंग तक पर पुलिस की कड़ी नजर है।

गणतंत्र दिवस से पहले पुलिस अलर्ट है। ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि शहर में कोई आतंकवादी घटना न घटे। इसके लिए शहर के लोगों को भी सचेत रहने की जरूरत है।

यह भी पढ़ें- दरिंदगी! हरियाणा के पानीपत में नाबालिग की हत्या कर शव के साथ 4 घंटों तक किया गैंगरेप

गणतंत्र दिवस पर हो सकता है आतंकी हमला

जानकारी के मुताबिक, दिल्ली में गणतंत्र दिवस पर बड़ा आतंकवादी हमला करने की साजिश का पता चला है। जिसे लेकर सुरक्षा एजेंसियों को इंटेलिजेंस इनपुट मिला है कि 3 संदिग्ध आतंकवादी आतंकी वारदात को अंजाम देने के लिए जामा मस्जिद इलाके मं छिपे हैं। इसलिए दिल्ली पुलिस को 26 जनवरी की सुरक्षा को लेकर सचेत किया गया है।

एजेंसियों को आतंकी हमले की साजिश एक कॉल इंटरसेप्ट करने के बाद मालूम चली है। ये तीनों संदिग्ध आतंकवादी अफगान मूल के हैं और पश्तो भाषा में बात करते हैं। इन्हें कश्मीर से दिशा-निर्देश मिल रहा है।

Share it
Top