Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

दाऊद ने शिया बोर्ड के अध्यक्ष को धमकाया, कहा- मौलानाओं से माफी मांगों

मदरसा शिक्षा की आलोचना करने के बाद वसीम रिजवी मुस्लिमों के एक वर्ग के निशाने पर आ गए हैं।

दाऊद ने शिया बोर्ड के अध्यक्ष को धमकाया, कहा- मौलानाओं से माफी मांगों

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम धमकाने से बाज नहीं आ रहा है। इस बार दाऊद के निशाने पर थे शिया सेंट्रल बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी। इन्हें यह धमकी मदरसा शिक्षा की आलोचना करना पर मिली।

वसीम ने धमकी मिलती ही इसकी शिकायत पुलिस से की। उन्होंने दाऊद इब्राहिम के खिलाफ नामजद रिपोर्ट भी दर्ज कराई। रिजवी के अनुसार उन्हें देर रात फोन पर धमकी मिली। फोन करने वाले शख्स ने अपने आप को 'डी कंपनी' का आदमी बताया और 'भाई' के नाम से धमकी दी।
धमकाने वाले शख्स ने कहा कि मैं भाई का आदमी हूं। वसीम रिजवी से मौलानाओं ने बिना शर्त माफी मांगने को कहा। इसके साथ ही वसीम को यह धमकी भी मिली कि अगर उन्होंने माफी नहीं मांगी तो उन्हें और उनके परिवार को इसका अंजाम भुगतना होगा।
गौरतलब है कि मदरसा शिक्षा की आलोचना करने के बाद वसीम रिजवी मुस्लिमों के एक वर्ग के निशाने पर आ गए हैं। वसीम ने मदरसा शिक्षा के खिलाफ पीएम मोदी को चिठ्ठी लिखी। इसके बाद जमात-ए-उलेमा-ए-हिंद ने वसीम रिजवी पर 20 करोड़ का मानहानि का मुकदमा ठोंका। इसके साथ ही उनके सामने माफी मांगने की शर्त भी रखी।
जमात-ए-उलेमा-ए-हिंद का कहना है कि वसीम रिजवी ने जो चिठ्ठी प्रधानमंत्री मोदी को लिखी है उसमें कई आपत्तिजनक बातें लिखी गई हैं। चिठ्ठी की वजह से मदरसों का और मुसलमानों की छवि को भारी नुकसान होगा।
बता दें कि चिठ्ठी में लिखा था कि मदरसे सिविस सर्वेंट से ज्यादा आतंकवादी पैदा कर रहे हैं।
हमारे मदरसे इंजीनियर और डॉक्टर बनाने में एकदम फेल हैं।
हमारे मदरसे युवाओं को कट्टरपंथी की ओर धकेल रहे हैं।
Next Story
Share it
Top