Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मुंबई पुलिस का खुलासा: दाऊद इब्राहिम डिप्रेशन में, डॉन का एकलौता बेटा बना मौलाना

मौलाना को ''हाफिज-ए-कुरान'' कहा जाता है, जिसने पवित्र कुरान की सभी 6,236 आयतों को याद कर लिया हो।

मुंबई पुलिस का खुलासा: दाऊद इब्राहिम डिप्रेशन में, डॉन का एकलौता बेटा बना मौलाना

मोस्ट वांटेड माफिया डॉन दाऊद इब्राहिम के अपने परिवार में पैदा हुई एक समस्या के कारण उसके डिप्रेशन में होने की खबर है। इस मुद्दे को वह न तो अपनी डी कंपनी के नेटवर्क से सुलझा पा रहा है और न ही बंदूक के दम पर।

मुंबई पुलिस से जुड़े सूत्रों के मुताबिक यह समस्या उसके तीसरे बच्चे को लेकर है और वह है दाऊद का इकलौता बेटा 31 साल का मोइन नवाज डी कासकर, जिसने परिवार के कारोबार का त्याग कर एक मौलाना बनने का निर्णय लिया है।

बना सम्मानित मौलाना

इकबाल कासकर ने पूछताछ में जांचकर्ताओं से कहा कि उसका भतीजा मोइन अब एक सम्मानित और योग्य मौलाना है। मौलाना को 'हाफिज-ए-कुरान' कहा जाता है, जिसने पवित्र कुरान की सभी 6,236 आयतों को याद कर लिया हो।

'दाऊद की अवैध गतिविधियों के खिलाफ'

ठाणे के जबरन वसूली रोधी प्रकोष्ठ के प्रमुख और एनकाउंटर स्पेशलिस्ट के तौर पर चर्चित प्रदीप शर्मा का कहना है, 'मोइन अपने पिता की अवैध गतिविधियों के खिलाफ है, जिसने पूरे परिवार को दुनिया भर में कुख्यात कर दिया है और हर जगह उन्हें भगोड़ा बना दिया है।'

दाऊद को कारोबार की चिंता

इकबाल कासकर ने जांचकर्ताओं को बताया कि चिंतित दाऊद को पारिवारिक अशांति के कारण निराशा का सामना करना पड़ रहा है।

वह परेशान है कि भविष्य में कौन उसके विशाल अंडरवर्ल्ड साम्राज्य की देखभाल करेगा और उसे संभालेगा। दाऊद के दूसरे भाई अनीस इब्राहिम कासकर की अब उम्र बढ़ रही है और खबर है कि उसका भी स्वास्थ्य ठीक नहीं है।

साथ ही अन्य भाइयों की मृत्यु हो चुकी है और साम्राज्य को संभालने के लिए कोई विश्वसनीय रिश्तेदार भी मौजूद नहीं है।

कासकर ने बताया, मौलाना बना मोइन

शर्मा ने कहा, 'पिछले कुछ सालों से उसका बेटा परिवार और उसके सभी व्यवसायों से व्यावहारिक रूप से अलग हो गया है, लेकिन यह स्पष्ट नहीं है कि क्या वह अपने पिता की जगह संभालेगा।'

Loading...
Share it
Top