Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

टाटा ग्रुप के फैसले के खिलाफ बॉम्‍बे हाईकोर्ट जाएंगे साइरस मिस्‍त्री

टाटा ग्रुप ने भी इस मामले के कोर्ट में जाने को लेकर अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं।

टाटा ग्रुप के फैसले के खिलाफ बॉम्‍बे हाईकोर्ट जाएंगे साइरस मिस्‍त्री
नई दिल्ली. टाटा ग्रुप के चेयरमैन पद से हटाए गए साइरस मिस्‍त्री इस फैसले के खिलाफ कोर्ट जाएंगे। मिस्‍त्री बॉम्‍बे हाई कोर्ट में टाटा सन्‍स लिमिटेड के इस फैसले को चुनौती देंगे। उधर, टाटा ग्रुप ने भी इस मामले के कोर्ट में जाने को लेकर अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं। ग्रुप ने कई सीनियर वकीलों से बातचीत की है।
मिस्‍त्री को सोमवार को पद से हटा दिया गया था। उनकी जगह रतन टाटा को चार महीने के लिए अंतरिम चेयरमैन नियुक्‍त किया गया है और नए चेयरमैन की तलाश के लिए एक कमिटी का गठन किया गया है। जब मिस्‍त्री को हटाए जाने की बात सामने आई थी तभी टाटा ग्रुप के सबसे बड़े हिस्‍सेदार शापूरजी और पालोनजी ग्रुप ने इस फैसले को अवैध बताया था और इसे कानूनी चुनौती देने की बात कही थी।
उधर, टाटा ग्रुप ने संभावित कानूनी पचड़ों के मद्देनजर सीनियर ऐडवोकेट्स हरीश एन. साल्वे और अभिषेक मनु सिंघवी को हायर किया है। सूत्रों ने बताया कि ग्रुप ने साल्वे और सिंघवी से इस मामले पर विचार-विमर्श किया है। मामले की जानकारी रखने वालों ने बताया कि मिस्त्री को पद से हटाने से पहले ही टाटा ग्रुप ने कानूनी जगत के टॉप लोगों से सलाह-मशविरा किया। ग्रुप ने सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज आर. वी. रवींद्रन के अलावा सीनियर ऐडवोकेट्स पी. चिदंबरम और मोहन परासरन से सलाह ली। सूत्रों ने कहा कि ऐसे जटिल मसलों में किसी कानूनी पचड़े से बचने के लिए बड़ी कंपनियां लीगल अडवाइस लेती हैं।
एनबीटी की रिपोर्ट के मुताबिक, साइरस मिस्‍त्री को चेयरमैन पद से क्‍यों हटाया गया, इस बारे में अभी कोई कारण स्‍पष्‍ट नहीं है। हालांकि, रिपोर्ट्स का कहना है कि उनकी परफॉर्मेंस की वजह से उन्‍हें हटाया गया। रिपोर्टों के मुताबिक, पिछले छह महीने से रतन टाटा और साइरस मिस्‍त्री के बीच काफी मतभेद चल रहा था। साथ ही घाटे में चल रही कंपनियों को छांटने और केवल फायदा देने वाले उपक्रमों पर ही ध्यान देने के उनके दृष्टिकोण की वजह से कंपनी में नाराजगी थी। इनमें यूरोप में घाटे में चल रहे इस्पात कारोबार की बिक्री का मामला भी शामिल है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top