Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

कांग्रेस नेता अहमद पटेल की बढ़ी मुश्किलें, कोर्ट ने वक्फ भूमि के मामले जारी किया सम्मन

अदालत ने जोरबाग इलाके में कर्बला की वक्फ भूमि पर कथित तौर पर कब्जा करने के आरोप में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल को सम्मन किया है

कांग्रेस नेता अहमद पटेल की बढ़ी मुश्किलें, कोर्ट ने वक्फ भूमि के मामले जारी किया सम्मन

दिल्ली की एक अदालत ने उस याचिका पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल को सम्मन किया है जिसमें जोरबाग इलाके में कर्बला की वक्फ भूमि पर कथित तौर पर कब्जा करने की कोशिश के लिए पटेल के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की गई है।

ये भी पढ़ें- दिल्ली वक्फ बोर्ड के सदस्य पद से अमानतुल्ला खान ने दिया इस्तीफा

अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश नीरा भरिहोक ने कर्बला इलाके के दो निवासियों और जोरबाग की ‘दरगाह शाह-ए -मरदां' के जायरीनों की शिकायत पर पटेल को नोटिस जारी किया।

उन्होंने दिलावर अब्बास नकवी और जहरूल हसन की पुनरीक्षण याचिकाओं पर बीते 23 दिसंबर को आदेश पारित किया। जहरूल हसन जोरबाग में वक्फ संपत्तियों की देखभाल करने वाली इकाई ‘अंजुमन-ए-हैदरी' के प्रबंधक हैं।

अदालत के एक कर्मचारी ने कहा कि पटेल को 24 फरवरी को निजी तौर पर हाजिर होने के निर्देश वाला दस्तावेज कल जारी किया गया।

आरोप है कि 30 मार्च, 2014 को रात करीब 10 बजे पुलिस अधिकारियों ने जायरीनों के प्रवेश वाले स्थान को स्थायी रूप से बंद करने के लिए बांस और टीन की दीवार खड़ी करने की कोशिश की।

याचिकाकर्ताओं का दावा है कि संबंधित संपत्ति तक जाने से जायरीनों को रोक दिया गया और जब उन्होंने इसका विरोध किया तो पुलिसकर्मियों ने पिटाई की धमकी दी और यह कहा कि उनको कांग्रेस सांसद अहमद पटेल का आदेश मिला है।

ये भी पढ़ें- शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष को दाऊद के नाम से धमकाया, कहा- मौलानाओं से मांगो माफी

वकील मोहम्मद दानिश के जरिए दायर की गई याचिकाओं में 29 सितंबर, 2017 के उस आदेश को चुनौती दी गई जिसमें मजिस्ट्रेट की अदालत ने प्राथमिकी दर्ज करने की मांग वाली याचिका खारिज कर दी थी। पुनरीक्षण याचिका में दावा किया गया है कि पटेल इस दरगाह की जमीन पर कब्जा करने की कोशिश कर रहे थे।

Next Story
Share it
Top