Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोर्ट ने तिहाड़ जेल अधिकारियों को एकांत कारावास से मिशेल को राहत देने के दिए निर्देश

दिल्ली की एक अदालत ने अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर घोटाले में गिरफ्तार कथित बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल को एकांत कारावास में रखने को लेकर मंगलवार को तिहाड़ जेल अधिकारियों को तत्काल सुधारात्मक उपाय करने के निर्देश दिये।

कोर्ट ने तिहाड़ जेल अधिकारियों को एकांत कारावास से मिशेल को राहत देने के दिए निर्देश

दिल्ली की एक अदालत ने अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर घोटाले में गिरफ्तार कथित बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल को एकांत कारावास में रखने को लेकर मंगलवार को तिहाड़ जेल अधिकारियों को तत्काल सुधारात्मक उपाय करने के निर्देश दिये।

विशेष न्यायाधीश अरविंद कुमार ने आरोपी की सुरक्षा सुनिश्चित करने के भी जेल अधिकारियों को निर्देश दिये। अदालत ने कहा कि जेल में रहने के दौरान मिशेल के आचरण के खिलाफ एक भी शिकायत नहीं मिली है।

अदालत मिशेल के उस आवेदन पर सुनवाई कर रही थी जिसमें आरोप लगाया गया है कि जेल में वह मानसिक यातना का सामना कर रहा है।
अदालत ने कहा, ‘‘इसमें कोई संदेह नहीं है कि कुछ परिस्थितियों में एकांत कारावास की अनुमति है, लेकिन यह कहने की भी जरूरत नहीं है कि आरोपी के खिलाफ उसके आचरण के बारे में एक भी शिकायत नहीं की गई है और जेल अधिकारी सुरक्षा कारणों से किसी व्यक्ति को एकांत कारावास में नहीं रख सकते हैं।'
उसने कहा कि मिशेल की सुरक्षा सर्वोपरि है और इसे सर्वोच्च रूप में लिया जाना चाहिए लेकिन सुरक्षा के नाम पर एक अभियुक्त को एकांत कारावास में नहीं रखा जा सकता है।
अदालत ने कहा, ‘‘सभी तथ्यों और परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए डीजी, कारागार को आरोपी के एकांत कारावास के बारे में तत्काल सुधारात्मक उपाय उठाये जाने के निर्देश दिये जाते है।' अदालत ने कहा, ‘‘इसके साथ ही अभियुक्त की सुरक्षा भी सुनिश्चित की जानी चाहिए।'
उसने यह भी निर्देश दिये कि मिशेल को जेल नियमावली के अनुसार पुस्तकालय, किताबें, पत्रिकाएं, कैंटीन और खेल जैसी सभी सुविधाएं प्रदान की जाएं, जो अन्य विचाराधीन कैदियों को प्रदान की जा रही है।
सीबीआई और ईडी की ओर से पेश विशेष लोक अभियोजकों क्रमश: डी पी सिंह और एन के मत्ता ने अदालत को बताया था कि आरोपी एक विदेशी है और उसे प्रत्यर्पण के माध्यम से लाया गया है। अभियोजकों ने कहा, ‘‘संधि के अनुसार उसकी सुरक्षा सुनिश्चित करना देश की जिम्मेदारी है।'
अदालत ने 11 मार्च को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को तिहाड़ जेल में मिशेल से पूछताछ करने की अनुमति दी थी। अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर मामले में कथित बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल ने 12 मार्च को दिल्ली की एक अदालत में दावा किया कि सीबीआई के पूर्व विशेष निदेशक राकेश अस्थाना ने दुबई में उससे मुलाकात की थी और धमकी दी थी कि अगर वह इस घोटाले में एजेंसी की जांच के अनुरूप नहीं चला तो ‘‘जेल में उसकी जिंदगी को नरक बना दिया जायेगा।'
उसने कहा था, ‘‘कुछ समय पहले राकेश अस्थाना मुझसे दुबई में मिले थे और उन्होंने धमकी दी थी कि मेरा जीवन नरक बना दिया जाएगा और यही चल रहा है। मेरे बगल वाला कैदी (गैंगस्टर) छोटा राजन है ... मुझे समझ नहीं आ रहा है कि मैंने क्या अपराध किया है कि मुझे आतंकवादियों और उन लोगों के साथ रखा जा रहा है जिन्होंने कई लोगों की हत्याएं की हैं।' दुबई से प्रत्यर्पण के बाद ईडी ने उसे पिछले वर्ष 22 दिसम्बर को गिरफ्तार किया था।
मिशेल उन तीन कथित बिचौलियों में शामिल है जिनके खिलाफ 3600 करोड़ रुपये के घोटाले की जांच ईडी और सीबीआई कर रही है। अन्य बिचौलिये गुइदो हाश्के और कार्लो गेरोसा हैं।
Loading...

Latest

View All

वायरल

View All

गैलरी

View All
Share it
Top