Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

I-DAY: 4 जुलाई 1947, केवल डेढ़ सेकेंड में भारतीय स्वतंत्रता विधेयक बिल ब्रिटिश संसद में पारित कर दिया गया

केवल डेढ़ सेकेंड में ही भारतीय स्वतंत्रता विधेयक पेश कर दिया गया।

I-DAY: 4 जुलाई 1947, केवल डेढ़ सेकेंड में भारतीय स्वतंत्रता विधेयक बिल ब्रिटिश संसद में पारित कर दिया गया
नई दिल्ली. I-DAY COUNTDOWN के सीरिज के अंतर्गत आज हम आपको बताएंगे कि हम भारतीयों के लिए 4 जुलाई 1947 का दिन किस रूप में महत्वपूर्ण रहा था। अब तक आपने पढ़ा कि कैसे लाहौर में खासकर आंदोलन का उदय हुआ, कैसे ब्रिटिश शासन में तात्कालिक सैनिकों ने ब्रिटिश प्रशासन से तंग आकर अपनी एक अलग ही सेना का गठन कर लिया था।

4 जुलाई 1947 का दिन भारतीय इतिहास में एक खास जगह रखता है। आज के दिन ही ब्रिटिश पार्लियामेंट में भारतीय स्वतंत्रता विधेयक पेश किया गया था। एक और जहां लंदन में रूक-रूक के बारिश हो रही थी तो दिल्ली में बेहद गर्मी पड़ रही थी। दिल्ली में माहौल उपेक्षा और उम्मीदों से भरा पड़ा था तो लंदन में लगभग उदासीन था। शाम करीब साढ़े सात बजे हाउस ऑफ कॉमंस में करीब 100 के सदस्य थे यानी तीन चौथाई से ज्यादा सीटें खाली थीं। स्पीकर ने प्रधानमंत्री का नाम पुकारा, क्लीमेंट एटली अपनी सीट पर आधे सिर झुकाए खड़े हुए और बैठ गए।

फिर क्लर्क ने विधयक का नाम पढ़ा इंडियन इंडिपेंडेंस बिल। केवल डेढ़ सेकेंड में विधेयक पेश हो गया। इस बिल में 15 अगस्त को ब्रिटिश राज के खत्म होने का उल्लेख था और देशों आजाद भारत और पाकिस्तान के जन्म का प्रावधान था। दिल्ली में वायसराय हाउस में लंदन से तार आने का सिलसिला लगातार जारी था। लार्ड माउंटबेटन की परेशानी गवर्नर जनरल को लेकर जरा सी कम नहीं हुई थी। उन्होंने 10 बजे भारतीय कैबिनेट की बैठक बुलाई। उन्होंने गांधी, नेहरू और जिन्ना को पत्र लिखा और क्लीमेंट एटली को भी एक पत्र लिखा और रिपोर्ट में कहा कि यहां (भारत) हर रोज एक नया संकट पैदा होने की उम्मीद है। मैं परेशान हूं और चाहता हूं कि यहां से चला जाऊं। क्योंकि गवर्नर जनरल की तरह किसी एक की तरफ रहना नैतिक रूप से गलत होगा। मैं जानता हूं कि नेहरू और गांधी मुझे कभी माफ नहीं करें उन्हें सुनहरे भारत के सपने दिखाने के लिए।

नीचे की स्‍लाइड्स में पढ़िए, इस बिल के प्रावधान -

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-

Next Story
Share it
Top