Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

GSAT-7A की लॉन्चिंग के लिए उल्टी गिनती शुरू, कल 4 बजकर 10 मिनट पर होगा लॉन्च

भारत के जिओ स्टेशनरी कम्युनिकेशन सैटेलाइट (geostationary communication satellite) जीसैट-7ए (GSAT-7A) को श्रीहरिकोटा से प्रक्षेपण यान जीएसएलवी-एफ11 (GSLV-F11) से प्रक्षेपित करने के लिए 26 घंटे की उल्टी गिनती मंगलवार को शुरू हो गई। इसरो (ISRO) ने यह जानकारी दी है।

GSAT-7A की लॉन्चिंग के लिए उल्टी गिनती शुरू, कल 4 बजकर 10 मिनट पर होगा लॉन्च

भारत के जिओ स्टेशनरी कम्युनिकेशन सैटेलाइट (geostationary communication satellite) जीसैट-7ए (GSAT-7A) को श्रीहरिकोटा से प्रक्षेपण यान जीएसएलवी-एफ11 (GSLV-F11) से प्रक्षेपित करने के लिए 26 घंटे की उल्टी गिनती मंगलवार को शुरू हो गई। इसरो (ISRO) ने यह जानकारी दी है।

2,250 किलोग्राम वजनी जीसैट-7ए उपग्रह (GSAT-7A Satellite) को लेकर जाने वाले प्रक्षेपण यान जीएसएलवी-एफ11 बुधवार शाम चार बजकर 10 मिनट पर यहां से करीब 110 किलोमीटर दूर स्थित श्रीहरिकोटा के स्पेसपोर्ट के दूसरे लांच पैड से प्रक्षेपित किया जाएगा।

इसरो ने कहा कि जीसैट-7ए (GSAT-7A) का निर्माण भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने किया है और इसका जीवन आठ वर्ष है। यह भारतीय क्षेत्र में केयू-बैंड के उपयोगकर्ताओं को संचार क्षमताएं मुहैया कराएगा।

इसरो (ISRO) ने कहा कि श्रीहरिकोटा में सतीश धवन स्पेस सेंटर में जीएसएलवी-एफ 11 के जरिये संचार उपग्रह जीसैट-7ए को प्रक्षेपित करने के लिए 26 घंटे की उल्टी गिनती दोपहर दो बजकर 10 मिनट (भारतीय समयानुसार) पर शुरू हुई। इसके प्रक्षेपण का समय कल शाम चार बजकर 10 मिनट निर्धारित है।

जीएसएलवी एफ-11 जीसैट-7ए को जियोसिंक्रोनस ट्रांसफर आर्बिट (जीटीओ) में छोड़ेगा और उसे आनबोर्ड प्रणोदन प्रणाली का इस्तेमाल करते हुए अंतिम भूस्थैतिक कक्षा में स्थापित किया जाएगा। जीएसएलवी-एफ11 इसरो की चौथी पीढ़ी का प्रक्षेपण यान है।

Share it
Top