Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

1 अप्रैल से रेल ढुलाई होगी महंगी, मालभाड़े में औसतन 3.2 फीसदी वृद्धि

अगले वित्त वर्ष से अनाज, दालों और यूरिया की ढुलाई 10 प्रतिशत महंगी होगी। वहीं कोयले की ढुलाई की दरों में 6.3 प्रतिशत, सीमेंट में 2.7 प्रतिशत तथा स्क्रैप व पिग आयरन पर ढुलाई में 3.1 प्रतिशत वृद्धि का प्रस्ताव है।

1 अप्रैल से रेल ढुलाई होगी महंगी, मालभाड़े में औसतन 3.2 फीसदी वृद्धि

नई दिल्ली.रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने रेल बजट में हालांकि यात्री किरायों में बढ़ोतरी नहीं की है, लेकिन मालभाड़े में औसतन 3.2 फीसद की वृद्धि की गई है। इसका सीधा असर आवश्यक जिंसों के ग्राहकों के अलावा इस्पात व अल्युमीनियम उद्योग पर पड़ेगा।

नई विदेश व्यापार नीति 1 अप्रैल को होगी घोषित, सीतारमन ने ट्वीट कर बताया

110.5 करोड़ टन ढुलाई का लक्ष्य

अगले वित्त वर्ष से अनाज, दालों और यूरिया की ढुलाई 10 प्रतिशत महंगी होगी। वहीं कोयले की ढुलाई की दरों में 6.3 प्रतिशत, सीमेंट में 2.7 प्रतिशत तथा स्क्रैप व पिग आयरन पर ढुलाई में 3.1 प्रतिशत वृद्धि का प्रस्ताव है। रेलवे ने 2015-16 में 118.6 करोड़ टन मालढुलाई का महत्वाकांक्षी लक्ष्य रखा है। चालू वित्त वर्ष में यह 110.5 करोड़ टन है।

बाजार पूंजीकरण में एक लाख करोड़ की गिरावट

बिटुमन तथा कोलतार की ढुलाई भी महंगी

इसके अलावा प्रभु ने लौह अयस्क व इस्पात पर ढुलाई में 0.8 प्रतिशत वृद्धि का प्रस्ताव किया है। बिटुमन तथा कोलतार पर ढुलाई में 3.5 प्रतिशत का इजाफा किया गया है। अगले वित्त वर्ष में रेलवे की मालढुलाई से आमदनी 1,21,423 करोड़ रुपए रहने का अनुमान है।

नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, पूरी खबर -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top