Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

उपचुनाव नतीजे: राजस्थान में कांग्रेस और बंगाल में टीएमसी के साथ मतदाताओं का हाथ

उप चुनाव में सभी सीटों पर भाजपा को मुंह की खानी पड़ी है।

उपचुनाव नतीजे: राजस्थान में कांग्रेस और बंगाल में टीएमसी के साथ मतदाताओं का हाथ

उप चुनाव में सभी सीटों पर भाजपा को मुंह की खानी पड़ी है, राजस्थान में कांग्रेस ने दो लोकसभा सीटों अजमेर और अलवर और विधानसभा सीट मांडलगढ़ जीत ली है। पश्चिम बंगाल की नुआपाड़ा विधानसभा और उलुबेरिया लोकसभा सीट तृणमूल कांग्रेस की झोली में गई है।

राजस्थान और पश्चिम बंगाल की कुल 3 लोकसभा सीटों तथा 2 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनावों के नतीजे गुरुवार को आ गए। सभी सीटों पर भाजपा को मुंह की खानी पड़ी है।

इसे भी पढ़ें- राजस्थान उपचुनाव: कांग्रेस में खुशी की लहार, मांडलगढ़ में जीत दर्ज की

विधासनसभा चुनाव के लिए सेमीफाइनल माने जा रहे राजस्थान उपचुनाव में कांग्रेस ने दोनों लोकसभा सीटों अजमेर और अलवर और विधानसभा सीट मांडलगढ़ जीत ली है। पश्चिम बंगाल की नुआपाड़ा विधानसभा और उलुबेरिया लोकसभा सीट तृणमूल कांग्रेस की झोली में गई है।

अलवर सीट से कांग्रेस प्रत्याशी करण सिंह यादव ने भाजपा के जसवंत सिंह यादव को, अजमेर सीट से कांग्रेस प्रत्याशी रघु शर्मा ने भाजपा के राम स्वरूप लांबा को हराया है। मांडलगढ़ विधानसभा में कांटे की टक्कर में कांग्रेस प्रत्याशी विवेक धाकड़ ने भाजपा के शक्ति सिंह हाडा को हराया।

इसे भी पढ़ें- अरुण जेटली पकौड़ा उद्योग के लिए बजट लाने में जुटे हैं, उधर अजमेर-अलवर में BJP की लुटिया डूब रही है: राहुल गांधी

निर्वाचन विभाग के प्रवक्ता के अनुसार, अलवर लोकसभा सीट पर कांग्रेस के डॉ. करण सिंह यादव ने भाजपा के जयवंत सिंह यादव को एक लाख 96 हजार 496 मतों के अंतर से, अजमेर लोकसभा सीट पर कांग्रेस के रघु शर्मा ने बीजेपी के राम स्वरूप लाम्बा को 84 हजार 414 मतों के अंतर से और मांडलगढ़ विधानसभा सीट पर कांग्रेस के विवेक धाकड़ ने बीजेपी के शक्ति सिंह हांडा को 12 हजार 976 मतों से पराजित किया है।

भाजपा को नहीं मिला एक भी वोट

चौंकाने वाली बात तो यह है कि अजमेर लोकसभा के दूदू के एक पोलिंग बूथ पर भाजपा के पक्ष में एक भी वोट नहीं पड़ा है। यह स्थिति तब है जब 2013 विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा था जबकि 200 में से 163 सीटें भाजपा के खाते में गई थीं।

पश्चिम बंगाल में तृणमूल की विजय

पश्चिम बंगाल की उलुबेरिया लोकसभा सीट पर तृणमूल प्रत्याशी सजदा अहमद ने जीत हासिल की। नुआपाड़ा विधानसभा सीट पर तृणमूल प्रत्याशी सुनील सिंह ने चुनाव जीता। उन्होंने सीपीएम की गार्गी चटर्जी, भाजपा के संदीप बनर्जी और कांग्रेस के गौतम बोस को मात दी।

इसलिए हुए उपचुनाव

अजमेर लोकसभा सीट सांवरलाल जाट के निधन और अलवर लोकसभा सीट महंत चांदनाथ के निधन से खाली हुई थी। मांडलगढ़ विधानसभा सीट कीर्ति कुमारी के निधन के बाद रिक्त हुई थी।

पश्चिम बंगाल की उलुबेरिया लोकसभा सीट टीएमसी के सांसद सुल्तान अहमद के निधन के और नुआपाड़ा विधानसभा सीट कांग्रेस विधायक मधुसूदन घोष के निधन से खाली हुई थी।

राजस्थान के प्रति हम प्रतिबद्ध

हार को स्‍वीकार करते हुए मुख्‍यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा कि हम राजस्थान के विकास के लिए प्रतिबद्ध हैं और रहेंगे। उन्होंने कहा, अब हमें और कड़ी मेहनत करने की जरूरत है। जनता की सेवा का जो प्रण हमने चार साल पहले लिया था, उसे पूरा करने में हमने कोई कसर नहीं छोड़ी।

Next Story
Share it
Top