Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

कांगो में नरसंहार से 22 लोगों की मौत, अब तक 700 मरे

पादरी का कहना है कि अगर जंगलों में शवों को खोजा जाए तो यह संख्या बढ़ सकती है।

कांगो में नरसंहार से 22 लोगों की मौत, अब तक 700 मरे
कांगो. सेंट्रल अफ्रीका के देश कांगो के अशांत उत्तर कीवू प्रांत में नरसंहार से 22 लोग मारे जा चुके हैं। इस नरसंहार के लिए सशस्त्र समूह युगांडा विद्रोहियों के नेतृत्व को जिम्मेदार ठहराया गया है।
शनिवार को यहां विद्रोहियों ने 10 नागरिकों को मौत के घाट उतारा था। एएफपी ने एक ग्रामिण के हवाले से बताया है कि रविवार को भी 12 शव बरामद हुए हैं।
डेलीसभा की रिपोर्ट के अनुसार, यह खूनखराबा एरिंगेटी में हुआ। यह बेनी नाम के शहर से 55 किलोमीटर दूर है। बेनी कई हमलों की चपेट में रहा है जिसमें, क्षेत्रीय अधिकारी अमीसी कालोंडा का कहना है कि कीवू प्रांत में हुए नरसंहार में अब तक 700 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। अमीसी का कहना है कि ताजा हिंसा के अलाइड डेमोक्रेटिक फोर्सेस जिम्मेदार है। इस डेमोक्रेटिक फोर्सेस को यूगांडा के विद्रोही सहायता करते हैं।
रेपलरडॉटकॉम ने एक कैथोलिक पादरी के हवाले से मरने वालों की संख्या 27 बताई है। पादरी का कहना है कि अगर जंगलों में शवों को खोजा जाए तो यह संख्या बढ़ सकती है। बता दें कि यह नरसंहार क्रिसमस की रात हुआ है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top