Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

स्मॉग से कंपनियों का हाल बेहाल, 10 फीसदी कर्मचारी छुट्टी पर

कई एचआर के मुताबिक उन्होंने वायु प्रदूषण को देखते हुए अपने कार्यालयों में एयर प्यूरिफायर लगाए हैं।

स्मॉग से कंपनियों का हाल बेहाल, 10 फीसदी कर्मचारी छुट्टी पर
नई दिल्ली. दिल्ली में वायु प्रदूषण के कहर से लोग बीमार पड़ रहे हैं। जिसके चलते कामकाज पर असर पड़ रहा है। दिल्ली-एनसीआर कंपनियों में कर्मचारियों की वजह से काम प्रभावित हो रहा है। पांच से 10 फीसदी कर्मचारी स्मॉग के कारण बीमार और सांस की समस्या के चलते होने से छुट्टी पर हैं।
एसोचैम ने पिछले एक हफ्ते के दौरान दिल्ली और आस-पास के इलाकों में सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के करीब 150 उद्योगों के मानव संसाधन विभाग के अधिकारियों (एचआर) से बात करके यह निचोड़ निकाला है कि वायु प्रदूषण का असर कंपनियों की वित्तीय सेहत पर भी पड़ने लगा है।
लाइव हिंदुस्तान के अनुसार, स्मॉग के चलते कर्मचारी लगातार खांसी, आंखों में जलन, गले में खराश, सांस लेने में दिक्कत और फेफड़े की समस्याओं से जूझ रहे हैं। ज्यादातर एचआर का कहना है कि उनके कर्मचारी मेडिकल लीव ले रहे हैं और धीरे-धीरे यह संख्या बढ़ती जा रही है।
कई एचआर के मुताबिक उन्होंने वायु प्रदूषण को देखते हुए अपने-अपने कार्यालयों में एयर प्यूरिफायर लगाए हैं और कर्मचारियों को चेहरे पर मास्क लगाने की सलाह दी है। हालांकि, दिल्ली और आस-पास के इलाकों में जिस कदर वायु प्रदूषण बढ़ा है, वैसे में एहतियात के बावजूद सांस और अन्य परेशानियों के कारण कामकाज पर असर पड़ा है।
कई निजी कंपनियों ने मेडिकल छुट्टी लेने वाले कर्मचारियों को घर से काम करने की छूट दी है। सर्वेक्षण के मुताबिक सबसे अधिक समस्या उन कर्मचारियों के लिए है जो ऑफिस में रहते हैं। ऑफिस में खिड़की और रोशनदानों से आया जहरीला धुंध लोगों की रक्त धमनियों और नर्वस सिस्टम में जा रहा है, जिससे दिमागी क्षमता और एक्रागता दोनों पर बुरा असर पड़ रहा है।
एसोचैम के महासचिव डी एस रावत ने सर्वेक्षण रिपोर्ट जारी करते हुए सोमवार को कहा, कि कंपनियों को इस समस्या से निपटने के लिए अपने कर्मचारियों के काम के घंटे उनकी मनमर्जी से तय करने की छूट देनी चाहिए।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
hari bhoomi
Share it
Top