Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

केंद्र सरकार सिविल सर्विसेज एग्जाम की अधिकतम उम्र 32 से घटाकर 26 साल करेगी

जनरल कैटिगरी के स्टूडेंट के लिए एग्जाम में बैठने की अधिकतम उम्र 26 होगी, जबकि ओबीसी की 28 और एससी-एसटी के लिए 29 साल होगी।

केंद्र सरकार सिविल सर्विसेज एग्जाम की अधिकतम उम्र 32 से घटाकर 26  साल करेगी

नई दिल्ली. केंद्र सरकार सिविल सर्विसेज एग्जाम की अधिकतम उम्र 32 से घटाकर 26 साल करने जा रही है। इससे स्टूडेंट्स के लिए मौके भी कम हो जाएंगे। यह बदलाव 2015 के एग्जाम से लागू होंगे। हालांकि सरकार ने हालिया विवाद को देखते हुए एग्जाम फॉर्मेट में चेंज करने से इनकार कर दिया है।सूत्रों के मुताबिक फॉर्मल नोटिफिकेशन यूपीएससी जारी करेगा। उम्र कम करने के पीछे तर्क है कि एक स्टूडेंट सामान्य परिस्थिति में 21 साल की उम्र तक ग्रैजुएशन कर लेता है। ऐसे में अगले 5 साल में वह 3 मौकों का उपयोग कर सकता है।
जनरल कैटिगरी के स्टूडेंट के लिए एग्जाम में बैठने की अधिकतम उम्र 26 होगी, जबकि ओबीसी की 28 और एससी-एसटी के लिए 29 साल होगी। मिनिमम एज लिमिट सबके लिए 21 साल होगी। इससे जनरल कैटिगरी को एग्जाम में बैठने के अधिकतम 3 मौके मिलेंगे, जबकि ओबीसी को 5 और एससी-एसटी स्टूडेंट को 6 मौके मिलेंगे। अभी तक जनरल कैटिगरी के लिए एज लिमिट 32 साल है और एग्जाम में बैठने के 6 मौके मिलते हैं। ओबीसी और एससी-एसटी कैटिगरी के लिए मैक्सिमम एज लिमिट 35 साल है। लेकिन ओबीसी स्टूडेंट को परीक्षा में बैठने के 9 मौके मिलते हैं, जबकि एससी-एसटी कैंडिडेट्स के लिए कोई लिमिट नहीं है।

नीचे की स्लाइड्स में जानिए, - परीक्षा फॉर्मेट के बारे में

हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-

Next Story
Top