Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

चीन के शेयर बाजार में आई भारी गिरावट, अर्थव्यवस्था हुई डावांडोल

3.5 फीसदी से अधिक की गिरावट के साथ चीन का स्टॉक 4,800 के निचले स्तर पर आ गया है।

चीन के शेयर बाजार में आई भारी गिरावट, अर्थव्यवस्था हुई डावांडोल

शंघाई. चाइना स्टोक मार्केट में गरुवार को भारी गिरावट दर्ज की गई है। यह रिकार्ड 28 मई के बाद से अब तक का सबसे निचला स्तर माना जा रहा है। 3.5 फीसदी से अधिक की गिरावट के साथ चीन का स्टॉक 4,800 के निचले स्तर पर आ गया है। गौरतलब है कि चीन का मुख्य इंडेक्स शंघाई कम्पोजिट उस समय दबाव में आया जब मार्केट की 11 बड़ी कंपनियां आईपीओ लाईं जिससे सही परफॉर्मेंस नहीं कर रहे बैंकिंग शेयरों में से कुछ निवेशकों ने अपने हाथ खींच लिए।

शेयर बाजार में तेजी, सेंसेक्स और निफ्टी हुई 0.5 फीसदी मजबूत

हालांकि प्रॉपर्टी स्टॉक में होम प्राइस डेटा में सुधार के कारण कोई गिरावट नहीं आई। हॉन्ग कॉन्ग में भी शेयर कमजोर रहे जिसके दो कारण थे। एक तो फेडरल रिजर्व द्वारा सितंबर तक रेट बढ़ाए जाने और दूसरी ओर हॉन्ग कॉन्ग के लिए एक विवादित चुनावी पैकेज पर वाद-विवाद से निवेशकों का सेंटिमेंट कमजोर हुआ है। दिग्गज ब्रोक्रेज कंपनी गुताई जुनान सिक्यॉरिटीज समेत 11 चीनी कंपनियों ने आईपीओ के लिए गुरुवार को निवेशकों का सब्सक्रिप्शन लेना शुरु कर दिया और नौ कंपनियां शुक्रवार से इसका अनुसरण करेंगी। इससे मार्केट की लिक्विडिटी पर दबाव बढ़ जाएगा।

लगातार गिर रहा निर्यात का ग्राफ, छह माह से जारी है गिरावट का सिलसिला

देश के स्टॉक मार्केट में आठ महीने तक बुल रहने के कारण चीनी निवेशक बहुत ही सावधान हो गए हैं। आठ महीने तक चले बुल रन ने चीन के स्टॉक मार्केट को दुनिया का बेस्ट परफॉर्मिंग और बहुत ही ज्यादा ट्रेड करने वाला मार्केट बना दिया। पिछले 12 महीनों में मार्केट में 140 फीसदी से अधिक बढ़त के बाद कई मुख्य विश्लेषकों ने दूसरे हाफ के दौरान लंबे समय तक करेक्शन की संभावना के प्रति निवेशकों को चेताया है।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, पूरी खबर-

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Hari bhoomi
Share it
Top