Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

भारत से युद्ध अंतिम उपाय, जरूरत पड़ने पर उठाएंगे कड़े कदम: चीन

चीन ने कहा कि वो भारत के साथ रूस जैसे संबंध बनाना चाहता है।

भारत से युद्ध अंतिम उपाय, जरूरत पड़ने पर उठाएंगे कड़े कदम: चीन
चीन विशेषज्ञ ने कहा कि भारत के साथ युद्धी की स्थिति तब बनेगी जब कई विकल्प नहीं बचेगा। उन्होंने कहा कि रुस की तरह चीन भारत के साथ अपने संबंध को रणनीतिक ऊचाईं पर देखना चाहता है।
चीन के अग्रणी थिंक टैंक के रणनीतिकार ने ये भी कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो बीजिंग मजबूती से अपनी सीमा की रक्षा करेगा। चीनी समकालिक अंतर्राष्ट्रीय अध्ययन संस्थान के उपाध्यक्ष युआन पैंग ने कहा कि डोकलाम जैसे मुद्दा अगर दोबारा होता है तो जोरदार तरीके से इससे निपटा जाएगा।
पैंग ने कहा कि बीजिंग अपनी संप्रभुता, क्षेत्रीय अखंडता और प्रमुख हितों के साथ किस तरह का समझौता नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि हम जो अंतिम उपाय देखते हैं वो केवल युद्ध है। दोनों पक्षों को ये समझना चाहिए कि हम युद्ध नहीं चाहते।
उन्होंने कहा कि हम भारत-चीन संबंध को चीन-रूस संबंध की तरह रणनीतिक ऊंचाई पर पहुंचाना चाहते हैं। युआन ने कहा कि इन मुद्दों को द्विपक्षीय संबंधों को कठनाई में डालने के स्थान पर ठीक तरीके से संभालना चाहिए। उन्होंने कहा की जरूरत है कि चीन और भारत विस्तृत प्रक्रिया और वार्ता करें।
उन्होंने कहा कि यह संबंध चीन और रूस जौसे बड़े देशों के संबंध की तरह ही महत्वपूर्ण हैं। दोनों ही देश ब्रिक्स में लगातार आगे बढ़ने वाले देश हैं। उन्होंने कहा कि हम दोनों देशों को भाई की तरह बढ़ते हुए देखना चाहते हैं।
युआंग ने कहा कि जब संप्रभुता, क्षेत्रीय अखंडता एवं मुख्य हितों की बात आती है, तो हम हमेशा कड़े कदम उठाते हैं, क्योंकि इन मुद्दों पर समझौते का कोई रास्ता नहीं बचता है
Next Story
Top