Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चीन ने भारत को तबाह करने के लिए चली नापाक चाल, रचा ये षड्यंत्र

सुरंग दोनों देशों के बीच विवाद का कारण बन सकती है।

चीन ने भारत को तबाह करने के लिए चली नापाक चाल, रचा ये षड्यंत्र
X

डोकलाम विवाद में भारत से चोट खा चुका चीन अब भारत को परेशान करने के लिए एक योजना बना रहा है। दरअसल चीन के अभियंता इन दिनों एक ऐसी टेक्नोलॉजी पर काम कर रहे हैं, जिसका इस्तेमाल वे दुनिया की सबसे लंबी सुरंग तैयार करने में करेंगे।

चीन ब्रह्मपुत्र नदी के पानी को शिनजियांग प्रांत के सूखा ग्रस्त इलाके में डायवर्ट करने के लिए 1,000 किलोमीटर लंबी सुरंग बनाने की योजना बना रहा है। सुरंग दोनों देशों के बीच विवाद का कारण बन सकती है।

यह भी पढ़ें- सऊदी में महिलाओं को मिली एक और आजादी, किंग सलमान ने लिया बड़ा फैसला

बता दें कि ये नदी तिब्बत से यह नदी पूर्वोत्तर भारतीय राज्य अरुणाचल प्रदेश में प्रवेश करती है। चीन में इस नदी को यारलुंग त्सांगपो के नाम से जाना जाता है।

साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, फिलहाल चीन इस लंबी सुरंग को बनाने की क्षमता के परीक्षण के लिए एक छोटी सुरंग के प्रॉजेक्ट पर काम रह रहा है। चीन ने अगस्त में युन्नान प्रांत के मध्य में इस सुरंग का निर्माण शुरू किया है जो 600 किलोमीटर से ज्यादा लंबी होगी।

इसके अलावा रिपोर्ट में बताया गया है कि चीन के अभियंता इस सुरंग के निर्माण के जरिए उन टेक्नोलॉजी का परीक्षण कर रहे हैं। जिनके जरिए यारलुंग जांग्बो का पानी तिब्बत से शिनजियांग तक ले जाया जाएगा।

इस सुरंग का हिमालयी क्षेत्र पर प्रभाव पड़ सकता है। यह प्रस्तावित सुरंग तिब्बत के पठार से नीचे की ओर कई जगहों पर जाएगी जो वॉटरफॉल्स से जुड़ी होंगी।

यह भी पढ़ें- पाकिस्तान: जंजीरों से बंधे मासूम को आजाद कराया, पिता गिरफ्तार

इस नदी से चीन के सबसे बड़े प्रशासनिक संभाग को पानी मुहैया कराया जाएगा। इस संभाग का बड़ा हिस्सा रेगिस्तानी और शुष्क घास का मैदान है। दक्षिणी तिब्बत में ब्रह्मापुत्र के पानी को शिनजिआंग में तकलामाकान रेगिस्तान की तरफ डायवर्ट जाएगा।

गौरतलब है कि ब्रह्मापुत्र पर चीन की जल विद्युत परियोजनाओं को लेकर भारत अपनी चिंता जता चुका है। ब्रह्मपुत्र को डायवर्ट करने की बात पर चीन ने कभी सार्वजनिक तौर पर चर्चा नहीं की है।

क्योंकि इससे भारत के उत्तरपूर्वी हिस्से और बांग्लादेश में या तो भयंकर बाढ़ आएगी या पानी का प्रवाह बहुत कम हो जाएगा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story